कोर्ट के आदेश पर पत्नी को पोषण भत्ता देने बेरोजगार ने लगवाए किडनी बेचने के पोस्टर

विदिशा में इन दिनों जगह-जगह लगा एक पोस्टर खासी चर्चा में है. इसमें एक युवक ने अपनी किडनी बेचने का इश्तेहार अपनी फोटो के साथ चस्पा किया है.

Bharat Rajput | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 9, 2017, 3:05 PM IST
कोर्ट के आदेश पर पत्नी को पोषण भत्ता देने बेरोजगार ने लगवाए किडनी बेचने के पोस्टर
विदिशा में इन दिनों जगह-जगह लगा एक पोस्टर खासी चर्चा में है. इसमें एक युवक ने अपनी किडनी बेचने का इश्तेहार अपनी फोटो के साथ चस्पा किया है.
Bharat Rajput | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 9, 2017, 3:05 PM IST
विदिशा में इन दिनों जगह-जगह लगा एक पोस्टर खासी चर्चा में है. इसमें एक युवक ने अपनी किडनी बेचने का इश्तेहार अपनी फोटो के साथ चस्पा किया है. दरअसल डाबर निवासी प्रकाश अहिरवार ने मंगलवार को शहर की दीवारों पर यह पोस्टर लगाकर अपनी किडनी बेचने की इच्छा जाहिर की है. ताकि किडनी के बदले आए पैसों से वह अपनी पत्नी को भरण-पोषण के पैसे दे सके और न्यायालय के आदेश का सम्मान कर सके.

जानकारी के अनुसार मजदूरी करने वाले डाबर निवासी प्रकाश का विवाह 2002 में विदिशा निवासी लक्ष्मी के साथ हुआ. उस समय पत्नी मात्र आठवीं कक्षा तक ही शिक्षित थी. लेकिन प्रकाश ने अपनी पत्नी की पढ़ने की रूचि को देखते हुए पहले ग्रेज्यूऐशन फिर पीजीडीसीए और बीएड करवाया. इसी बीच पत्नी प्राइवेट नौकरी भी करने लगी. समय के साथ-साथ पत्नी का स्टैंडर्ड बढ़ गया और लक्ष्मी दो बच्चों की मां भी बन गई. प्रकाश ने इस बीच अपनी पुश्तैनी जमीन बेच दी और शहर में ही अपनी पत्नी के नाम एक प्लॉट खरीद कर मकान भी बनवा दिया.

इस बीच दोनों में विवाद होने लगे और 2015 में पत्नी ने उसे तलाक दे दिया. इतना ही नहीं न्यायालय में पोषण भत्ता देने का वाद भी दायर कर दिया. जिसमें न्यायालय ने प्रकाश को 2200 रुपए प्रतिमाह देने का आदेश दे दिया. बेरोजगारी से जूझ रहे प्रकाश ने न्यायालय के आदेश का पालन करने के लिए अपनी किडनी बेचने की तैयारी कर ली है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए विदिशा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2017, 3:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...