• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • विदिशा हादसा: दो बार पहले भी धसक चुका ‘मौत का कुआं,’ न सरपंच ने सुना, न अधिकारी ही जागे

विदिशा हादसा: दो बार पहले भी धसक चुका ‘मौत का कुआं,’ न सरपंच ने सुना, न अधिकारी ही जागे

विदिशा हादसा- कुएं के पास रहने वाली महिला ने बताया कि ये कुआं पहले भी धसक चुका है. अधिकारियों को बताओ तो अनसुना कर देते हैं.

विदिशा हादसा- कुएं के पास रहने वाली महिला ने बताया कि ये कुआं पहले भी धसक चुका है. अधिकारियों को बताओ तो अनसुना कर देते हैं.

Vidisha accident updates: दर्दनाक हादसे में चौंकाने वाला खुलासा हुआ. धसकने वाले कुएं के पास रहने वाली महिला अनीता ने गंभीर आरोप लगाया है. उनका दावा है कि कुआं इससे पहले भी दो बार धसक चुका है. इसकी शिकायत सरपंच से भी कई बार की गई थी.

  • Share this:
विदिशा. मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में गुरुवार को हुए दर्दनाक हादसे में बड़ा खुलासा हुआ है. धसकने वाले कुएं के पास रहने वाली महिला अनीता ने बताया कि ये कुआं इससे पहले भी दो बार धसक चुका है. इसके धसकने की शिकायत सरपंच से भी कई बार की गई. सरपंच को तस्वीरों के साथ सबूत दिए जा चुके हैं. महिला ने बताया कि सरपंच से पहले जून और फिर जुलाई में रहवासियों ने शिकायत की थी. इन शिकायतों को अधिकारियों ने गंभीरता से नहीं लिया. अधिकारी सही समय पर जाग जाते तो बड़ा हादसा नहीं होता.

दूसरी ओर गंजबासौदा से पूर्व विधायक निशंक जैन ने भी प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि गंजबासौदा टीआई को हादसे के वक्त फोन लगाया था. लेकिन, उन्होंने उठाया नहीं. हादसे के तुरंत बाद अगर रेस्क्यू शुरू हो जाता तो कई लोगों की जान बच जाती. प्रशासन को कई बार पानी और कुएं को लेकर शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई. निशंक जैन की मांग है कि मृतक के परिजन को 10 लाख और नौकरी दी जाए.



समाते चले गए लोग

गौरतलब है कि, विदिशा जिले में गुरुवार रात दिल दहला देने वाला हादसा हुआ. लाल पठार में एक कुएं में एक बच्चा गिर गया. उसे बचाने जब लोग पहुंचे तो पूरा कुआं ही धंस गया. कुएं के आसपास भारी भीड़ थी, जिसकी वजह से करीब 40 लोग उसमें गिर गए. कुआं धसने की इस घटना में अभी तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है. 20 लोगों को बचा लिया गया है. जबकि, 15-20 लोगों के अभी भी फंसे होने की आशंका है. राज्य सरकार ने मृतकों के परिवारजनों को 5 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है. घायलों को मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी. हादसा होते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसकी उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए. NDRF की टीम राहत-बचाव कार्य में जुटी हुई है.

राहुल गांधी-कमलनाथ ने जताया दुख

घटना को लेकर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी चिंता जताई है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट किया, ‘विदिशा जिले के गंजबासौदा में कई लोगों के कुएं में गिर जाने का मामला सामने आया है. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दुर्घटना से प्रभावित सभी लोग सुरक्षित रहें और प्रशासन उन्हें तत्परता से उपचार मुहैया कराए.' वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया- 'बेहद दुखद. मृतकों के परिवारजनों को शोक संवेदनाएं. कांग्रेस साथियों से अपील है कि बचाव कार्य में हर संभव मदद करें.'

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज