100 प्रतिशत एफडीआई के खिलाफ है RSS, फैसले की होगी समीक्षा

सिंगल ब्रांड रिटेल सेक्टर में 100 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की मंजूरी देने के केंद्र सरकार के फैसले से राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ सहमत नहीं है.

News18Hindi
Updated: January 13, 2018, 11:39 AM IST
100 प्रतिशत एफडीआई के खिलाफ है RSS, फैसले की होगी समीक्षा
सिंगल ब्रांड रिटेल सेक्टर में 100 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की मंजूरी देने के केंद्र सरकार के फैसले से राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ सहमत नहीं है.
News18Hindi
Updated: January 13, 2018, 11:39 AM IST
सिंगल ब्रांड रिटेल सेक्टर में 100 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की मंजूरी देने के केंद्र सरकार के फैसले से राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ सहमत नहीं है. विदिशा में संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक के दौरान संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि संघ 100 प्रतिशत एफडीआई के खिलाफ है. सरकार ने यह फैसला क्यों किया, संघ इसकी समीक्षा करेगा.

बता दें कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में एफडीआई नियमों को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है. नए फैसले के तहत सिंगल ब्रैंड रिटेल में ऑटोमैटिक रूट से 100 फीसदी एफडीआई को मंजूरी दे दी गई.

इससे पहले एफडीआई के तहत निवेश करने पर सरकार से मंजूरी लेनी पड़ती थी, लेकिन अब सभी शर्तें पूरी करने पर कैबिनेट से मंजूरी नहीं लेनी होगी. अगर आसान शब्दों में समझें तो निवेश मंजूरी की प्रक्रिया बेहद आसान हो जाएगी.

गौरतलब है कि, मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक हो रही है. इस बैठक में देश के वर्तमान राजनीतिक हालात और संघ के अनुशांगिक संगठनों की भूमिका पर विस्तार से चर्चा हो रही है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...