पोस्टमार्टम कर बिना टांके लगाए सौंपा शव, बाद में स्वीपर ने किचन में की सिलाई

News18Hindi
Updated: December 12, 2017, 7:48 AM IST
पोस्टमार्टम कर बिना टांके लगाए सौंपा शव, बाद में स्वीपर ने किचन में की सिलाई
मध्य प्रदेश में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं का एक और बेहद चौंकाने वाला और शर्मनाक मामला सामने आया है. यहां पोस्टमार्टम के बाद एक महिला के शव को बगैर टांके लगाए ही परिजनों को सौंप दिया गया. बाद में खुलासा होने पर एक स्वीपर को घर पर भेजा गया, जिसने किचन में शव की सिलाई की.

मध्य प्रदेश में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं का एक और बेहद चौंकाने वाला और शर्मनाक मामला सामने आया है. यहां पोस्टमार्टम के बाद एक महिला के शव को बगैर टांके लगाए ही परिजनों को सौंप दिया गया. बाद में खुलासा होने पर एक स्वीपर को घर पर भेजा गया, जिसने किचन में शव की सिलाई की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2017, 7:48 AM IST
  • Share this:
मध्य प्रदेश में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं का एक और बेहद चौंकाने वाला और शर्मनाक मामला सामने आया है. यहां पोस्टमार्टम के बाद एक महिला के शव को बगैर टांके लगाए ही परिजनों को सौंप दिया गया. बाद में खुलासा होने पर एक स्वीपर को घर पर भेजा गया, जिसने किचन में शव की सिलाई की.

मामला राजधानी भोपाल से सटे विदिशा जिले का है. यहां पगरानी गांव में 32 वर्षीय नीता शर्मा की करंट लगने से मौत हो गई. मेडिको लीगल केस होने की वजह से पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अपने कब्जे में ले लिया. स्थानीय सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम किया गया, जिसके बाद परिजनों को शव सौंप दिया गया.

अंतिम संस्कार के लिए परिजन शव लेकर घर पहुंचे तो खुलासा हुआ कि पोस्टमार्टम के बाद शव को टांके लगाए बगैर ही उन्हें सौंप दिया गया है. इस बात पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया तो अस्पताल से एक स्वीपर भेजा गया. इस स्वीपर ने घर के किचन में बैठकर शव को टांके लगाए, जिसके बाद नीता का अंतिम संस्कार किया जा सका.

बताया जा रहा है कि महिला के शव को टांके लगाने के लिए एक बुजुर्ग स्वीपर को भेजा गया था. स्वीपर की नजरें इतनी कमजोर थी कि वह सुई में धागा भी नहीं डाल पा रहा था. तब ग्रामीणों ने सुई में धागा डालकर दिया, जिसके बाद शव की सिलाई की गई. चौंकाने वाली बात ये भी है कि टांके लगाने के लिए घर के ही सुई-धागे का प्रयोग किया गया.

इस मामले को लेकर बीएमओ विवेक अग्रवाल ने एक अखबार को इंटरव्यू में शव में टांके नहीं लगाने के आरोपों को खारिज कर दिया है. बीएमओ ने तर्क दिया है कि शव हिलता-डुलता है तो हो सकता है कि टांके खुल गए हो.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए विदिशा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2017, 7:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...