ये Video देख रोंगटे खड़े हो जाएंगे : सरकारी वाहन से सड़क पर जा गिरा कोरोना मरीज़ का शव

मृतक मरीज़ विदिशा के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती था. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी.

मृतक मरीज़ विदिशा के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती था. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी.

शव वाहन मेडिकल कॉलेज अस्पताल से बाहर निकला ही था कि ड्राइवर ने तेज़ी से उसे मोड़ा और आगे बढ़ गया. उसी दौरान शव वाहन का एक दरवाज़ा टूट कर सड़क पर आ गिरा और उसी के साथ कोरोना में मृत एक मरीज़ का शव भी छिटक कर सड़क पर जा गिरा

  • Share this:
सेविदिशा. कोरोना (Corona) के इस भायवह संकट काल में दिल दहलाने वाली तस्वीरें सामने आ रही हैं. लेकिन विदिशा में तो अमानवीयता और लापरवाही की हद हो गयी. यहां शव वाहन से एक मृत कोरोना मरीज का शव  बीच सड़क (Road) पर गिर पड़ा और करीब 10 मिनट तक वहीं पड़ा रहा.

कोरोना के कारण मरीज़ों का रिकवरी रेट अच्छी खबर दे रहा है लेकिन मौत का आंकड़ा भी बढ़ा है. हर तरफ से खबर आ रही है कि श्मशान घाटों पर जगह कम पड़ गयी है. चौबीसों घंटे दाह संस्कार किया जा रहा है. शवों को अंतिम संस्कार के लिए घंटों इंतज़ार करना पड़ रहा है. आनन-फानन और जल्दबाज़ी में अंतिम संस्कार किया जा रहा है.

रोंगड़े खड़े हो गए

ऐसी ही खबरों के बीत विदिशा के अटल बिहारी वाजपेई मेडिकल कॉलेज और अस्पताल से रोंगटे खड़े कर देने वाली तस्वीर आयी. यहां भर्ती कोविड के लगभग 12 मरीजों की मौत हो गई थी. शवों को अंतिम संस्कार के लिए एक साथ मुक्तिधाम ले जाया रहा था. सारे शव एक शव वाहन में बुरी तरह भरे हुए थे. फिर जो हुआ उसे जिसने भी देखा वो सिहर उठा.
Youtube Video

गेट टूटा और शव सड़क पर

शव वाहन मेडिकल कॉलेज अस्पताल से बाहर निकला ही था कि ड्राइवर ने तेज़ी से उसे मोड़ा और आगे बढ़ गया. उसी दौरान वाहन में से एक स्ट्रेचर सड़क पर आ गिरा और उसी के साथ कोरोना में मृत एक मरीज़ का शव भी छिटक कर सड़क पर जा गिरा. वाहन की रफ्तार तेज़ थी इसलिए शव सड़क किनारे खड़े एक स्कूटर से टकरा कर नीचे सड़क पर गिर गया.

10 मिनट सड़क पर पड़ा रहा शव



ये दृश्य सड़क से गुजर रहे और शव वाहन के पीछे निकल रहे लोगों ने देखा तो दंग रह गए. सब एकदम से दौड़े और ड्राइवर को आवाज़ लगायी. फौरन ही ड्राइवर ने ब्रेक लगाया और शव वाहन को रोका. लेकिन शव करीब 10 मिनट तक वहीं उसी हालत में सड़क पर पड़ा रहा. करीब 10 मिनट के इंतज़ार के बाद उसे वापस शव वाहन में रखा जा सका.

तड़प उठे परिवारजन

शव वाहन के पीछे मृतकों के परिवार वाले भी चल रहे थे जो चिल्ला चिल्लाकर इस लापरवाही को दिखा रहे थे, लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं था.फिलहाल इस मामले में प्रबंधन कुछ भी कहने से बच रहा है.

कांग्रेस ने कहा- बेहद दर्दनाक दृश्य

कांग्रेस ने विदिशा में घटी इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया दी. कांग्रेस नेता नरेन्द्र सलूजा ने ट्वीट किया -सीएम शिवराज जी के गृह ज़िले विदिशा में कल एक महिला ने इलाज के अभाव में अस्पताल की दहलीज़ पर दम तोड़ दिया और आज विदिशा का ही एक दर्दनाक वीडियो सामने आया है. इसमें शव वाहन से शव गिर रहे हैं. ये कितनी अमानवीयता है. जीते जी इलाज नहीं और अंतिम समय भी यह हालत.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज