मध्‍य प्रदेश के तीसरे चरण के मतदान में हुई 64 प्रतिशत वोटिंग

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के तहत प्रदेश की 10 संसदीय सीट पर वोटिंग संपन्न हुई। इन 10 सीटों में विदिशा, देवास, उज्जैन, मन्दसौर, रतलाम, धार, इन्दौर, खरगोन, खण्डवा और बैतूल शामिल हैं। इस चरण में 1,69,53,000 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। यहां पर 17 महिला उम्मीदवार सहित कुल 118 उम्मीदवार मैदान में थे। निर्वाचन आयोग के अनुसार इन सीटों पर 64 प्रतिशत वोटिंग हुई।

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 24, 2014, 7:55 PM IST
मध्‍य प्रदेश के तीसरे चरण के मतदान में हुई 64 प्रतिशत वोटिंग
लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के तहत प्रदेश की 10 संसदीय सीट पर वोटिंग संपन्न हुई। इन 10 सीटों में विदिशा, देवास, उज्जैन, मन्दसौर, रतलाम, धार, इन्दौर, खरगोन, खण्डवा और बैतूल शामिल हैं। इस चरण में 1,69,53,000 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। यहां पर 17 महिला उम्मीदवार सहित कुल 118 उम्मीदवार मैदान में थे। निर्वाचन आयोग के अनुसार इन सीटों पर 64 प्रतिशत वोटिंग हुई।
ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 24, 2014, 7:55 PM IST
लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के तहत प्रदेश की 10 संसदीय सीट पर वोटिंग संपन्न हुई। इन 10 सीटों में विदिशा, देवास, उज्जैन, मन्दसौर, रतलाम, धार, इन्दौर, खरगोन, खण्डवा और बैतूल शामिल हैं। इस चरण में 1,69,53,000 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। यहां पर 17 महिला उम्मीदवार सहित कुल 118 उम्मीदवार मैदान में थे। निर्वाचन आयोग के अनुसार इन सीटों पर 64 प्रतिशत वोटिंग हुई।

इस चरण में कई दिग्गज नेताओं के भाग्य का फैसला अब ईवीएम में कैद हो गया। इनमें विदिशा संसदीय क्षेत्र से भाजपा की सुषमा स्वराज और कांग्रेस के लक्ष्मण सिंह के बीच मुकाबला था।

वहीं इंदौर में भाजपा की सुमित्रा महाजन, रतलाम में कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया, मंदसौर मेंकांग्रेस की मीनाक्षी नटराजन, खंडवा से कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव के भाग्य का फैसला मतदाताओं ने किया।

इन 10 संसदीय क्षेत्र में 19,446 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इसमें 378 सहायक मतदान केंद्र शामिल थे। सर्वाधिक 2,207 मतदान केंद्र इंदौर संसदीय क्षेत्र में और सबसे कम 1,722 धार में था। तृतीय चरण में कुल 23,854 बैलेट यूनिट (ईवीएम) और 21,424 कंट्रोल यूनिट (सीयू) उपयोग में लाई गई।

शांतिपूर्वक चुनाव संपन्न कराने के लिए 10 संसदीय क्षेत्रों में कड़ी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। रतलाम, खरगोन, उज्जैन और इन्दौर सहित अन्य क्षेत्र में सीएपीएफ (सेन्ट्रल आर्म्स पुलिस फोर्स) की 103 कंपनी तैनात की गई। इसके अलावा विशेष सशस्त्र बल की 50 कंपनी भी इन क्षेत्रों में सुरक्षा का मोर्चा संभाले हुए थी।

लगभग 2,440 पुलिस अधिकारी, 16,289 प्रधान आरक्षक और आरक्षक, 10,730 होमगार्ड जवान और 19,447 विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) सुरक्षा की चक-चौबंद व्यवस्था में लगे रहे। अंतर्राज्यीय सीमाओं वाले जिले में भी कड़ी चौकसी की व्यवस्था की गई थी।

प्रदेश में दिन भर चले मतदान की अहम बातें इस प्रकार रहीं-
Loading...

झाबुआ में टूटा पिछले लोकसभा चुनाव का रिकॉर्ड
पेटलावद(झाबुआ) स्‍थित ग्राम सारंगी के बूथ संख्‍या 44 पर ईवीएम मशीन हुई खराब,40 मिनट तक रुका रहा मतदान
खरगोन स्‍थित बड़वाह के मतदान केंद्र क्रमांक 54 पर ईवीएम में खराबी के चलते एक घंटा रुका रहा मतदान
हरदा में 108 नंबर बूथ पर ड्यूटी के दौरान बीएलओ की मौत
एमपी में शिकायतों के बाद 125 ईवीएम बदलीं गईं
बुरहानपुर में भाजपा उम्मीदवार नंदकुमार सिंह चौहान ने शाहपुर में किया मतदान
कांतिलाल भूरिया ने अपने गांव मोरडोंडिया में पत्नी के साथ किया मतदान
धार लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी उमंग सिंघार ने बारिया में किया मतदान
उज्जैन दक्षिण के बूथ संख्‍या 151 पर हंगामा
इंदौर से भाजपा प्रत्‍याशी सुमित्रा महाजन ने डाला वोट
परीक्षा होने के चलते शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय वोट डालने नहीं पहुंचे
वोट डालने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कहा, वोट डालकर हम राष्‍ट्रीय कर्तव्‍य का पालन कर रहे हैं
मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह ने अपनी पत्‍नी के साथ मतदान केंद्र पर पहुंचकर डाला वोट
कांग्रेस नेता जयंती नटराजन ने मंदसौर के बूथ संख्‍या 42 पर डाला वोट
विदिशा के बूथ नंबर 143 पर ईवीएम खराब, शुरू नहीं हुई वोटिंग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 24, 2014, 7:34 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...