OMG: पुल से लेकर रेल ड्राइवर तक को बांधते हैं यहां के लोग राखी..!

Bharat Rajput | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 7, 2017, 1:41 PM IST
OMG: पुल से लेकर रेल ड्राइवर तक को बांधते हैं यहां के लोग राखी..!
रक्षाबन्धन का त्यौहार भाई बहन के स्नेह का त्यौहार है. बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बाँध कर रक्षा का वचन लेती है और भाई भी ये वचन देता है.

रक्षाबन्धन का त्यौहार भाई बहन के स्नेह का त्यौहार है. बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बाँध कर रक्षा का वचन लेती है और भाई भी ये वचन देता है.

  • Share this:
रक्षाबन्धन का त्यौहार भाई बहन के स्नेह का त्यौहार है. बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बाँध कर रक्षा का वचन लेती है और भाई भी ये वचन देता है.

लेकिन विदिशा मे युवाओं की एक टोली के द्वारा पिछले 6 सालों से रक्षाबन्धन का त्यौहार अनूठे ढंग से मनाया जाता है. युवाओं की यह टोली रेलवे पुल सड़क मार्ग के पुल सहित रेल पटरिओं को भी राखी बांधते हैं और यात्रिओं और राहगीरों की सुरक्षा का वचन लेते हैं.

रक्षा का यह पर्व जहाँ एक ओर भाई बहन के स्नेह का त्यौहार है तो वहीँ दूसरे शब्दों मे इस त्यौहार को रक्षा का त्यौहार भी कह सकते हैं.

बहनों को रक्षा का वचन देने वाले भाई विदिशा के बरसों पुराने रेलवे पुल और सड़क पुलों को रक्षासूत्र बांधकर यात्रियों की सुरक्षा का वचन लेते हैं. इतना ही नहीं युवाओं की यह टोली रेलवे स्टेशन के कण्ट्रोल रूम मे पहुँच कर संयंत्रों को भी रक्षा सूत्र बांधते हैं और स्टेशन गुजरने वाली ट्रेन के इंजन और ड्राईवर को रक्षासूत्र बांधकर यात्रियों की सुरक्षा का वचन लेते हैं.

टोली के सदस्य के अनुसार पिछले 6 बरसों से इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. बरसों पुराने पुलों पर से हज़ारों यात्रियों की जानमाल की सुरक्षा यह पुल करते हैं, और इसी तरह से रेल ड्राईवर और ऑपरेटर यात्रिओं की सुरक्षा करते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए विदिशा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 7, 2017, 1:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...