लाइव टीवी

देवर के प्यार में पागल भाभी ने रची थी पति की हत्या की साजिश, पुलिस ने किया पर्दाफाश
Vidisha-Madhya-Pradesh News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: February 21, 2020, 10:03 AM IST
देवर के प्यार में पागल भाभी ने रची थी पति की हत्या की साजिश, पुलिस ने किया पर्दाफाश
देवर से अवैध संबंधों के कारण पत्नी ने करवा दी पति की हत्या

विदिशा कोतवाली पुलिस ने आरोपी समरत सिंह और हत्या की साजिश रचने वाली मृतक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया. हरि सिंह की तलाश की जा रही है.

  • Share this:
विदिशा. मध्य प्रदेश के विदिशा (Vidisha) जिले में देवर के प्यार में पागल हुई महिला ने अपने पति की हत्या (murder) करवा दी. वारदात में महिला के चचेरे देवर शामिल थे. पुलिस ने आरोपी देवर-भाभी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक महिला के अपने देवर के साथ अवैध संबंध थे. पति को शक हो गया था, जिसको लेकर पत्नी के साथ उसका आए दिन झगड़ा होता था. पुलिस ने बताया कि देवर के प्यार में पागल पत्नी ने पति को हमेशा के लिए रास्ते से हटवा दिया.

विदिशा कोतवाली पुलिस ने एक दिन पहले संदिग्ध हालात में हुई अशोक गुर्जर नाम के शख्स की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है. हत्यारे कोई और नहीं, बल्कि उसकी पत्नी और रिश्ते का भाई समरत सिंह निकले. कोतवाली पुलिस ने मुख्य आरोपी समरत सिंह और हत्या की साजिश रचने वाली पत्नी को गिरफ्त में ले लिया है. जबकि एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है.

चचेरे भाइयों ने की हत्या
विदिशा कोतवाली थाना क्षेत्र में एक अज्ञात शव के मिलने की सूचना मिली. कोतवाली टीआई अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और पंचनामा कर शिनाख्ती में लग गए. पूछताछ करने पर मृतक की पहचान राजपूत कॉलोनी में रहने वाले अशोक गुर्जर के रूप में हुई. पुलिस ने जांच शुरू की तो शक की सुई अशोक की पत्नी पर आकर अटक गई. पुलिस उस पर लगातार नजर बनाए हुए थी. मृतक का चचेरा भाई समरत सिंह भी पुलिस की नजरों में संदिग्ध बनता जा रहा था.



भाई की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखायी
समरत इतना शातिर था कि उसने अशोक की हत्या करने के बाद खुद ही पुलिस को उसकी गुमशुदगी की खबर दी और फिर पुलिस के साथ अशोक को ढूंढ़ने का नाटक भी करता रहा. अशोक की लाश मिलने के बाद वो पूरे वक्त पुलिस के साथ कागजी कार्रवाई के दौरान मौजूद भी रहा. लेकिन पुलिस का शक उस पर गहराता जा रहा था. इसी वजह से पुलिस ने पूछताछ के लिए समरत सिंह को थाने बुलवा लिया.जब सख्ती से पूछताछ की गयी तो समरत ने सच उगल दिया. उसने कबूल लिया कि अशोक की हत्या उसने की है.

भाभी से अवैध संबंध
आरोपी समरत ने स्वीकारा कि अशोक की पत्नी यानी अपनी भाभी से उसके अवैध संबंध थे. डेढ़ साल से ये सिलसिला चल रहा था. इस पर अशोक को शक हो गया था और इसी बात पर उसका अपनी पत्नी से रोज झगड़ा होता था. अपनी प्रेमिका यानी भाभी को इस तरह परेशान होता देख समरत ने अपने भाई अशोक की हत्या की साजिश रची. साजिश में समरत सिंह ने अपने एक अन्य भाई हरि सिंह को भी शामिल किया. साजिश के तहत दोनों ने अशोक को दारू पिलाने के लिए बुलाया. तीनों शराब पीने बैठे. समरत और हरि ने मिलकर अशोक को खूब शराब पिला दी. जैसे ही अशोक पर नशा चढ़ा, दोनों ने मिलकर गमछे से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और लाश को सड़क किनारे खेत में फेंक कर चले गए.

देवर-भाभी गिरफ्तार
दूसरे दिन समरत ने खुद पुलिस के पास जाकर गुमशुदगी की सूचना दी और जगह जगह तलाश करना शुरू कर दी. थोड़ी देर बाद समरत ने ही पुलिस को शव मिलने की सूचना दी. फिलहाल कोतवाली पुलिस ने आरोपी समरत सिंह और हत्या की साजिश रचने वाली मृतक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया. हरि सिंह की तलाश की जा रही है.

(विदिशा से भारत शर्मा की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-

भिंड के गौरी सरोवर में गिरी गाड़ी : कांवड़ लेकर आए 3 युवकों की डूबने से मौत

दिग्विजय सिंह ISI एजेंट कहने वाले बीजेपी प्रवक्ताओं पर ठोकेंगे मानहानि का केस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए विदिशा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 21, 2020, 8:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर