आज से खुलेगा सिद्धिविनायक मंदिर, हर घंटे 100 भक्त कर पाएंगे बप्पा के दर्शन

महाराष्ट्र सरकार ने दोबारा से धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाजत दे दी है.
महाराष्ट्र सरकार ने दोबारा से धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाजत दे दी है.

Shree Siddhivinayak Temple: न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष ने कहा कि इस दौरान मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना समेत सभी कोविड नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 10:17 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र सरकार (Government of Maharashtra) ने सोमवार (16 नवंबर) से राज्य के सभी धार्मिक स्थलों (Religious places) को खोलने की इजाजत दे दी है. राज्य सरकार के इस आदेश के बाद मुंबई स्थित श्री सिद्धिविनायक मंदिर (Siddhivinayak Temple) दोबारा से खुलने के लिए तैयार हो गया है. मंदिर ट्रस्ट के आध्यक्ष आदेश बांदेकर ने कहा है कि हर घंटे 100 भक्तों को बप्पा के दर्शन की अनुमति दी जाएगी. हालांकि प्रतिदिन सिर्फ 1 हजार भक्त ही सिद्धिविनायक मंदिर में प्रवेश कर पाएंगे.

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष ने कहा कि इस दौरान मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना समेत सभी कोविड नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा.

धार्मिक स्थल खोलने के लिए राज्य सरकार ने जारी किया आदेश
महाराष्ट्र के मंदिरों और अन्य पूजा स्थलों को सोमवार से फिर से खोला जाएगा, राज्य सरकार ने कहा कि जल्द ही कोरोना वायरस सुरक्षा उपायों को जारी किया जाएगा जिनका सभी को पालन करना होगा. मार्च के बाद से महाराष्ट्र और अधिकांश अन्य राज्यों में धार्मिक स्थानों को बंद कर दिया गया था.







महाराष्ट्र सरकार का हुआ विरोध
कोरोना वायरस महामारी से बचाव के मद्देनजर बंद मंदिर के कपाट को वापस खुलवाने को लेकर महाराष्ट्र में विरोध बढ़ता जा रहा था. जनता से लेकर आम आदमी तक हर कोई महाराष्ट्र सरकार को सवालों के घेरे में लेते हुए जल्द से जल्द मंदिर खोलने की मांग कर रहा था. एक महीने पहले मुंबई में सिद्धिविनायक मंदिर, शिरडी में साईं बाबा मंदिर और पुणे में तांबड़ी जोगेश्वरी मंदिर के बाहर भाजपा कार्यकर्ताओं ने अनशन किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज