Home /News /maharashtra /

रेलवे का हर्बल गार्डन, लगाए गए रोगों से निजात दिलाने वाले 120 तरह के वृक्ष

रेलवे का हर्बल गार्डन, लगाए गए रोगों से निजात दिलाने वाले 120 तरह के वृक्ष

मध्य रेलवे अपने यात्रियों के लिए एक पर्यावरण अनुकूल वातावरण बनाने की दिशा में लगातार प्रयास कर रही है (फाइल फोटो)

मध्य रेलवे अपने यात्रियों के लिए एक पर्यावरण अनुकूल वातावरण बनाने की दिशा में लगातार प्रयास कर रही है (फाइल फोटो)

Maharashtra News: मध्य रेलवे द्वारा बनाये गए इस हर्बल गार्डन में अश्वगंधा, ब्राह्मी, इवनिंग प्रिमरोज, मेंथॉल मिंट, अडूसा, अजवाइन, अपामार्ग, इलायची, काली मिर्च, शतावरी, तुलसी, सर्प गंधा, गिलोय और लौंग जैसे कुल 120 वृक्ष हर्बल गार्डन में लगाए गए हैं.

अधिक पढ़ें ...
मुंबई. रेलवे स्टेशनों को हरित और ईको फ्रेंडली बनाने की दिशा में रेल मंत्रालय (Rail Ministry) लगातार प्रयास करने में जुटा हुआ है और इसके लिए तमाम कदम भी उठाए जा रहे हैं. इसी के तहत मध्य रेलवे ने मुंबई के प्रसिद्ध और बड़े स्टेशनों में से एक छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (Chhattrapati Shivaji Maharaj Terminus) पर हर्बल गार्डन का निर्माण किया है. रेलवे की तरफ से इस तरह की यह पहली अनोखी पहल है. इस हर्बल गार्डन की सबसे अनोखी बात यह है कि इसमें 120 तरह के ऐसे हर्बल वृक्ष लगाए गए हैं, जिनके इस्तेमाल से किसी न किसी रोग का इलाज होता है.

मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि यह हर्बल गार्डन मध्य रेलवे की ग्रीन पहल की दिशा में एक और सकारात्मक कदम है. मध्य रेलवे अपने यात्रियों के लिए एक पर्यावरण अनुकूल वातावरण बनाने की दिशा में लगातार प्रयास कर रही है.

ये भी पढ़ें- 130 किलो के लड़के ने ये 2 चीजें खाकर घटाया 55 Kg वजन, आप भी जानें डाइट सीक्रेट

लगाए गए ये 120 वृक्ष
मध्य रेलवे द्वारा बनाये गए इस हर्बल गार्डन में अश्वगंधा, ब्राह्मी, इवनिंग प्रिमरोज, मेंथॉल मिंट, अडूसा, अजवाइन, अपामार्ग, इलायची, काली मिर्च, शतावरी, तुलसी, सर्प गंधा, गिलोय और लौंग जैसे कुल 120 वृक्ष हर्बल गार्डन में लगाए गए हैं. इस गार्डन के लगने से स्टेशन और उसके आस-पास ना सिर्फ ऑक्सीजन का स्तर बढ़ेगा, बल्कि वायु और ध्वनि प्रदूषण को कम करने में मदद मिलेगी.

बता दें कि मध्य रेलवे के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस को कुछ दिन पहले ही आईजीबीसी ने ग्रीन स्टेशन के सर्टिफिकेट से नवाजा है. ये खिताब पाने वाला वह महाराष्ट्र का पहला ग्रीन स्टेशन है. इतना ही नही, इसके अलावा हरित प्रयासों को लेकर उसे कई अन्य पुरस्कार भी मिलते रहे हैं.

Tags: Central Railway, Indian railway, Indian Railways

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर