ठाणे के अस्पतालों ने कोरोना मरीजों से वूसले 1.82 करोड़ अधिक रुपये, अब लौटाना होगा
Maharashtra News in Hindi

ठाणे के अस्पतालों ने कोरोना मरीजों से वूसले 1.82 करोड़ अधिक रुपये, अब लौटाना होगा
ठाणे के अस्पतालों ने कोरोना मरीजों से वूसले अधिक रुपये अब लौटाना होगा. (Demo)

ठाणे महानगर पालिका ने इन अस्पतालों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जिसके बाद अस्पतालों ने 26.68 लाख रुपये मरीजों को लौटाए.

  • Share this:
ठाणे. महाराष्ट्र (Maharashtra) के ठाणे जिले में कम से कम 17 निजी अस्पतालों ने कोविड-19 (covid 19,) मरीजों से 1.82 करोड़ रुपये अधिक वसूले हैं और इसमें से अभी 1.40 करोड़ रुपए लौटाए जाना बाकी हैं. निकाय अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी.

मरीजों की ओर से कई शिकायतें मिलने के बाद ठाणे महानगर पालिका के आयुक्त डॉ विपिन शर्मा ने शहर के 17 अस्पतालों के बिल की जांच करने के लिए लेखा परीक्षकों के दल गठित किए. निकाय संस्था की ओर से जारी एक वक्तव्य में बताया गया कि दलों ने 10 जुलाई से 21 अगस्त तक के बिलों को जांच की और 1,362 बिल में कुल 1.82 करोड़ रुपये अधिक दर्ज पाए गए.

इसे भी पढ़ें :- पीएम केयर फंड से बिहार के पटना और मुजफ्फरपुर में DRDO बनाएगा कोरोना अस्पताल, PMO का ट्वीट



ठाणे महानगर पालिका ने इन अस्पतालों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जिसके बाद अस्पतालों ने 26.68 लाख रुपये मरीजों को लौटाए. निकाय ने कहा कि 15.27 लाख रुपये अधिक राशि के लिए अस्पतालों की दलील को स्वीकार किया गया लेकिन उन्हें अभी 1.40 करोड़ रुपये लौटाने हैं. पिछले महीने निकाय ने यहां घोड़बंदर रोड पर स्थित एक निजी अस्पताल द्वारा अधिक शुल्क लेने पर उसका लाइसेंस निलंबित कर दिया था और अस्पताल को कोविड-19 केंद्र की सूची से हटा दिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज