#SaveDivyanshu मुंबई में देर रात खुले नाले में गिरा 2 साल का बच्चा, सर्च ऑपरेशन जारी

दिव्यांशु रात को अपने घर से खेलता हुआ सड़क पर बाहर निकला और जैसे ही वापस घर जाने के लिए घूमा उसका पैर फिसल गया और वो नाले में जा गिरा. इस दौरान नाले में तेज बहाव में दिव्यांशु बह गया. जिस समय वह नाले में गिरा तब वहां कोई भी मौजूद नहीं था.

News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 9:39 AM IST
News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 9:39 AM IST
एक बार फिर मुंबई में बीएमसी के दावों की पोल खुलती नजर आ रही है. गोरेगांव इलाके में बुधवार देर रात एक दो साल का मासूम बच्चा खुले नाले में गिरकर बह गया. बच्चे की पहचान दिव्यांशु के तौर पर हुई है. हादसे की जानकारी के बाद पुलिस और बीएमसी की टीमें मौके पर पहुंची व बच्चे को ढूंढने के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू किया. बच्चे के नाले में गिरने की पूरी घटना वहां पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गई है.

पैर फिसला और नाले में गिरा
दिव्यांशु रात को अपने घर से खेलता हुआ सड़क पर बाहर निकला और जैसे ही वापस घर जाने के लिए घूमा उसका पैर फिसल गया और वो नाले में जा गिरा. इस दौरान नाले में तेज बहाव में दिव्यांशु बह गया. जिस समय वह नाले में गिरा तब वहां कोई भी मौजूद नहीं था. इसके बाद उसकी मां उसे ढूंढते हुए बाहर निकली लेकिन उसका कुछ पता नहीं लगा. लेकिन बाद में जब पास में लगे मस्जिद के सीसीटीवी फुटेज को देखा गया तो दिव्यांशु खुले नाले में गिरता दिखाई दिया.

बीएमसी पर फूटा गुस्सा

हादसे के बाद से ही पुलिस, बीएमसी और फायर ब्रिगेड की टीम के साथ स्‍थानीय लोग भी मासूम को तलाशते रहे लेकिन उसका रात भर कुछ पता नहीं चल सका. स्‍थानीय लोगों ने इस हादसे का जिम्मेदार बीएमसी को ठहराया है. लोगों ने कहा कि लंबे समय से बीएमसी को खुले नाले ढकने के लिए बोला जा रहा है लेकिन ऐसा अभी तक नहीं हुआ. बारिश के दिनों में यह नाले और भी बड़ा खतरा बन जाते हैं.

ये भी पढ़ें: वॉशिंगटन में बाढ़ इमरजेंसी, क्या मुंबई जैसे हैं हालात-कारण?

महाराष्ट्र: CM फडणवीस के बाद सबसे पॉपुलर हैं ये मंत्री
First published: July 11, 2019, 7:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...