महाराष्ट्र में 21,029 नए मामले, 479 मौतें, राज्य में 2 लाख 73 हजार से ज्यादा एक्टिव केस

 पुणे शहर में संक्रमण के 1,797 नए मरीज मिलने के बाद आंकड़ा 1,46,062 हो गया
पुणे शहर में संक्रमण के 1,797 नए मरीज मिलने के बाद आंकड़ा 1,46,062 हो गया

Maharashtra Coronavirus Cases: मुंबई (Mumbai) शहर में दिन के दौरान संक्रमण के 2,360 नए मामले सामने आए, जिससे महानगर में संक्रमितों की कुल संख्या 1,90,264 तक पहुंच गई. महाराष्ट्र कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में पहले नंबर पर है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 24, 2020, 7:58 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में बुधवार को कोविड-19 (Covid-19) के 21,029 नये मामले सामने आए, जिससे राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 12,63,799 हो गयी. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग ने बताया कि 479 लोगों ने संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया, जिससे राज्य में महामारी में मरने वालों की संख्या 33,886 हो गयी. उन्होंने बताया कि उपचार के बाद दिन में कुल 19,476 रोगियों को छुट्टी दे दी गई, जिससे राज्य में ठीक हुए मरीजों की संख्या 9,56,030 पहुंच गई. राज्य में अब 2,73,477 मरीजों का इलाज चल रहा है.

मुंबई (Mumbai) शहर में दिन के दौरान संक्रमण के 2,360 नए मामले सामने आए, जिससे महानगर में संक्रमितों की कुल संख्या 1,90,264 तक पहुंच गई, जबकि 49 और मरीजों की जान जाने से मृतकों की संख्या 8,604 हो गई. पुणे शहर में संक्रमण के 1,797 नए मरीज मिलने के बाद आंकड़ा 1,46,062 हो गया जबकि 26 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या 3,329 हो गई. राज्य में अब तक 61,06,787 नमूनों की जांच हुई हैं.

ये भी पढ़ें-चीन से तनाव के बीच भारत-ऑस्ट्रेलिया की नौसेनाओं ने हिंद महासागर में दिखाई ताकत




पीएम मोदी ने की सात राज्यों की समीक्षा
महाराष्ट्र कोरोना वायरस (Coronavirus) से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्यों की सूची में पहले नंबर पर है. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सहित सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों और स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक कर इन राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की. कोविड-19 के 63 फीसदी उपचाराधीन मरीज इन सात राज्यों में हैं.

वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित इस बैठक में महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के अलावा आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, दिल्ली और पंजाब के मुख्यमंत्रियों और स्वास्थ्य मंत्रियों ने हिस्सा लिया. केंद्र सरकार ने एक आधिकारिक बयान में कहा था कि देश में कोरोना के कुल पुष्ट मामलों का 65.5 फीसदी और कुल मृत्यु के 77 फीसदी मामले भी इन्हीं राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से हैं.

बयान के मुताबिक अन्य पांच राज्यों के साथ-साथ पंजाब और दिल्ली में हाल ही में कुल मामलों की संख्या में काफी तेज वृद्धि दर्ज की गई है. महाराष्ट्र, पंजाब और दिल्ली में मृतकों की संख्या भी काफी बढ़ी है. इन राज्यों में मृत्यु दर दो प्रतिशत से अधिक है, जो कि मृत्यु दर का उच्च औसत है. पंजाब और उत्तर प्रदेश के अलावा उनकी संक्रमण की पुष्टि दर राष्ट्रीय औसत 8.52 प्रतिशत से अधिक है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज