कोविड-19 संकट से निपटना महाराष्ट्र सरकार की प्राथमिकता है: आदित्य ठाकरे

महाराष्ट्र में संक्रमण के अब तक 2,00,064 मामले सामने आ चुके हैं.
महाराष्ट्र में संक्रमण के अब तक 2,00,064 मामले सामने आ चुके हैं.

कोविड-19 (Covid-19) संकट से निपटने को लेकर विपक्ष द्वारा महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार की आलोचना को नजरअंदाज करते हुए राज्य के मंत्री आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) ने कहा है कि वैश्विक महामारी (Global Epidemic) से निपटना सरकार की प्राथमिकता है.

  • Share this:
ठाणे. कोविड-19 (Covid-19) संकट से निपटने को लेकर विपक्ष द्वारा महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार की आलोचना को नजरअंदाज करते हुए राज्य के मंत्री आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) ने कहा है कि वैश्विक महामारी (Global Epidemic) से निपटना सरकार की प्राथमिकता है और बाकी चीजें बाद में आती हैं.

कोरोना वायरस (Coronavirus) संबंधी हालात का जायजा लेने के लिए यहां आए ठाकरे से संवाददाताओं ने कोविड-19 संकट से उचित तरीके से निपटने में असमर्थ रहने को लेकर विपक्ष द्वारा सरकार की आलोचना के संबंध में सवाल किए गए, जिसके जवाब में उन्होंने कहा, 'उन्हें अपना काम करने दीजिए, हम अपना काम करते रहेंगे. इस समय हमारी प्राथमिकता कोविड-19 के कारण पैदा हुए हालात से निपटना और वायरस की श्रृंखला को तोड़ना है, बाकी चीजें बाद में आती हैं.'

एम्बुलेंस के लिए ऐप की शुरुआत
शिवसेना के विधायक ने अस्पताल में बिस्तरों के ऑनलाइन वितरण और एम्बुलेंस बुक कराने के लिए एक ऐप भी शुरू की, जिसे ठाणे नगर निगम ने विकसित किया है. ठाकरे ने शनिवार शाम को यहां निगम मुख्यालय में कोविड-19 समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले लोगों का पता लगाने की गति तेज किए जाने और पृथक-वास केंद्रों में अच्छी सुविधाओं के रख-रखाव की आवश्यकता पर जोर दिया.
उन्होंने स्थानीय निकाय अधिकारियों को समय-समय पर पृथक-वास केंद्रों और वहां खाद्य आपूर्ति समेत विभिन्न सुविधाओं की जांच किए जाने का निर्देश दिया. इस बैठक में ठाणे के संरक्षण मंत्री एकनाथ शिंदे, महापौर नरेश महास्के और जिले के अन्य वरिष्ठ नेता भी शामिल हुए.



महाराष्ट्र में कोरोना के 2 लाख से ज्यादा केस
महाराष्ट्र में संक्रमण के अब तक 2,00,064 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 8,671 लोगों की मौत हो चुकी है. ठाणे जिले में शनिवार तक संक्रमण के 40,542 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 1,221 लोगों की मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज