आर्टिकल 370ः जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में होंगे महाराष्ट्र के रिजॉर्ट!

एमटीडीसी का कोई भी रिजॉर्ट महाराष्ट्र से बाहर नहीं है. लेकिन अब केंद्र के फैसले के बाद जम्मू कश्मीर और लद्दाख में भी रिजॉर्ट खोले जाएंगे. इसके बाद अन्य राज्यों में भी अब एमटीडीसी जमीनें खरीद वहां पर अपना रिजॉर्ट खोलने की प्रक्रिया शुरू करेगी.

News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 3:20 PM IST
आर्टिकल 370ः जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में होंगे महाराष्ट्र के रिजॉर्ट!
इस बात की जानकारी खुद महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल ने दी. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 3:20 PM IST
आर्टिकल 370 में संशोधन के बाद अब जम्मू कश्मीर की सूरत बदलने की उम्मीद जताई जा रही है. इसी उम्मीद के चलते अब महाराष्ट्र सरकार के पर्यटन विभाग ने घोषणा की है कि वे अब जम्मू कश्मीर और लद्दाख में महाराष्ट्र टूरिज्म डवलपमेंट कॉर्पोरेशन (एमटीडीसी) का रिजॉर्ट खोलेगा. इस बात की जानकारी खुद महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल ने दी. हालांकि अभी जम्मू कश्मीर में जमीन खरीदने काे लेकिन किसी भी तरह के प्रावधान की घोषणा नहीं की गई है.

जल्द ही खरीदेंगे जमीन
आज तक की एक रिपोर्ट के अनुसार रावल ने बताया कि हम जम्मू कश्मीर और लद्दाख में एमटीडीसी के रिजॉर्ट खोलने की तैयारी में हैं. जैसे ही दोनों राज्यों में उप राज्यपाल की नियुक्ति होगी, हम वहां जमीन खरीदने की कवायद शुरू कर देंगे. उन्होंने बताया कि वे किसी भी केंद्र शासित प्रदेश में जमीन खरीद सकते हैं लेकिन आर्टिकल 370 और 35 ए के चलते घाटी में अब तक जमीन खरीदना संभव नहीं था. लेकिन संशोधन के बाद अब यह संभव हो सका है. उन्होंने कहा कि अब घाटी में आर्थिक निवेश होंगे, खुला बाजार होगा, ऐसे में हम पीछे रहना नहीं चाहते हैं.

अभी तक प्रदेश से बाहर नहीं है रिजॉर्ट

रावल ने बताया कि अभी तक एमटीडीसी का कोई भी रिजॉर्ट महाराष्ट्र से बाहर नहीं है. लेकिन अब केंद्र के फैसले के बाद जम्मू कश्मीर और लद्दाख में भी रिजॉर्ट खोले जाएंगे. इसके बाद अन्य राज्यों में भी अब एमटीडीसी जमीनें खरीद वहां पर अपना रिजॉर्ट खोलने की प्रक्रिया शुरू करेगी.

सबसे पहले महाराष्ट्र की घोषणा
केंद्र सरकार के आर्टिकल 370 में संशोधन के फैसले के बाद महाराष्ट्र पहला ऐसा राज्य है जिसने जम्मू कश्मीर में जमीन खरीदने और रिजॉर्ट खोलने की घोषणा की है. गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख में हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं.
Loading...


First published: August 7, 2019, 3:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...