लाइव टीवी

दिल्ली चुनाव जीतने के बाद अब महाराष्ट्र के वोटरों का मिजाज़ जानने उतरेगी AAP

एएनआई
Updated: February 12, 2020, 12:05 PM IST
दिल्ली चुनाव जीतने के बाद अब महाराष्ट्र के वोटरों का मिजाज़ जानने उतरेगी AAP
अरविंद केजरीवाल ने मुफ्त की योजनाओं पर मुश्किल से डेढ़ हजार करोड़ रुपये खर्च किए हैं

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (AAP) लगातार तीसरी बार प्रचंड बहुमत से दिल्‍ली की सत्‍ता में आने में सफल रही. अब दूसरे राज्यों में भी है जाने की तैयारी.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में धमाकेदार जीत के बाद आम आदमी पार्टी (AAP) के हौसले बुलंद हैं. पार्टी को विधानसभा चुनाव में 70 में से 62 सीटों पर जबरदस्त जीत मिली. अब जीत की हैट्रिक के बाद अरविंद केजरीवाल तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने वाले हैं. ऐसे में अब बाद पार्टी दूसरे राज्यों में भी किस्मत आजमाने की योजना बना रही है. इसके तहत पार्टी ने आने वाले दिनों में महाराष्ट्र के स्थानीय निकायों के चुनाव में लड़ने के संकते दिए हैं. वैसे बता दें कि साल 2015 में भी AAP ने दिल्ली में सरकार बनाने के बाद कई राज्यों में अपने उम्मीदवार उतारे थे, लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली थी.

'तैयार हैं हम'
समाचर एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए आप की नेता प्रीति शर्मा ने कहा, 'महाराष्ट्र में हमलोग स्थानीय निकायों के चुनाव के लिए अपना संगठन तैयार करेंगे. मैं चाहती हूं कि महाराष्ट्र सरकार भी दिल्ली का मॉडल अपनाए. ऐसे में अगर वे हमसे कोई मदद मांगते हैं तो हम इसके लिए तैयार हैं.'

दिल्ली के बाहर पार्टी का बुरा हाल
बता दें कि दिल्ली से बाहर आप की सरकार किसी और राज्य में नहीं है. लेकिन साल 2017 में पंजाब में हुए विधानसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल की पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया था. उनकी पार्टी को कुल 19 सीटें मिली थी. कांग्रेस के बाद आप वहां दूसरी सबसे बड़ी पार्टी है. इससे पहले साल 2014 और 2019 के लोकसभा के चुनाव में पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा था. साल 2014 में अरविंद केजरीवाल पीएम मोदी के खिलाफ बनारस से चुनाव लड़े थे, लेकिन उन्हें करारी हार का सामना करना था.

ये भी पढ़ें:

चुनाव प्रचार: मोदी-शाह की रैली का स्ट्राइक रेट रहा 12 फीसदी, केजरीवाल का 88%

14 करोड़ किसानों को अब 6000 रु वाली किसान सम्मान निधि के साथ लाखों के फायदे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 11:58 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर