Home /News /maharashtra /

akbaruddin owaisi climbs chadar on aurangzeb grave bjp said just remove the police for 10 minutes

अकबरुद्दीन औवैसी ने औरंगजेब की कब्र पर चढ़ाए फूल, BJP ने सरकार से पूछा- क्या अब दर्ज करेंगे राजद्रोह का मामला?

शुक्रवार को अकबरुद्दीन ओवैसी ने औरंगजेब की कब्र पर चढ़ाए फूल. (फाइल फोटो)

शुक्रवार को अकबरुद्दीन ओवैसी ने औरंगजेब की कब्र पर चढ़ाए फूल. (फाइल फोटो)

Dargha Hazrath Aurangzeb Alamgir, Akbaruddin Owaisi: बीजेपी नेता राम कदम क कहना है कि अचानक अकबरुद्दीन का औरंगजेब की मजार पर जाना क्यूं हुआ? उन्होंने कहा कि ओवैसी का मकसद हमारे हिंदू भाइयों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना था. हिंदुओं को नीचा दिखाने की यह एक सोची समझी साजिश थी. उन्होंने पूछा कि सरकार इस मामले में क्या करेगी,

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी (Akbaruddin Owaisi) के गुरुवार को महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद दौरे में औरंगजेब की मजार (Dargha Hazrath Aurangzeb Alamgir) पर फूल चढ़ाना अब राज्य राजनीतिक मुद्दा बन गया है. औरंगजेब के मजार पर फूल चढ़ाने से बीजेपी और शिवसेना दोनों ही काफी ज्यादा नाराज है. अब सवाल यह उठ रहा है की महाराष्ट्र के औरंगाबाद में AIMIM के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने सभा से पहले अचानक औरंगजेब की मजार पर फूल और चादर क्यूं चढ़ाई?

जहां एक तरफ AIMIM के नेताओं का कहना है की औरंगाबाद के खुलताबाद में जो भी जाता है, वो औरंगजेब की मजार पर फूल और चादर जरूर चढ़ाता है, पर बीजेपी का कहना है की अकबरुद्दीन ने औरंगजेब की मजार पर फूल और चादर चढ़ाने की पूरा साजिश रची थी, ताकी अकबरुद्दीन हिंदुओं की भावनाओं को नीचा दिखा सके.

लाउड स्पीकर, हनुमान चालीसा के बाद नया मुद्दा

महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से लाउड स्पीकर, अज़ान और हनुमान चालिसा का मुद्दा पहले ही गर्म है और अब औरंगजेब का मुद्दा नया आ गया है. अकबरुद्दीन ओवैसी को पता था की वो अगर औरंगजेब की मजार पर फूल और चादर चढ़ाने जाते है तो यह एक बड़ा राजनीतिक मुद्दा जरूर बनेगा और हुआ भी यही.

बीजेपी और शिवसेना ने इसका पूरा विरोध किया. बीजेपी के नेताओं का कहना है की औरंगजेब की मजार पर अकबरुद्दिन ओवैसी का जाना सोची समझी साजिश थी.. क्यूं की उनको पता था कि इससे हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचेगी.

बीजेपी नेता राम कदम ने सरकार से पूछा सवाल

बीजेपी नेता राम कदम क कहना है कि अचानक अकबरुद्दीन का औरंगजेब की मजार पर जाना, आखिर क्यूं? उन्होंने कहा कि ओवैसी का मकसद हमारे हिंदू भाइयों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना था. हिंदुओं को नीचा दिखाने की यह एक सोची समझी साजिश थी. उन्होंने पूछा कि सरकार इस मामले में क्या करेगी, क्या अकबरुद्दिन पर राजद्रोह का मामला दर्ज करेंगे?

वही दूसरी तरफ AIMIM के सांसद इमतियाज जलील ने बचाव करते हुए कहा की औरंगाबाद में कई बड़े लोगों की कब्र है, जिनमें से एक औरंगजेब की कब्र है और जो भी औरंगाबाद के खुलताबाद आता है वो औरंगजेब की कब्र पर जरूर जाता है इसको अलग रंग न दिया जाए.

बीजेपी नेता ने कहा पुलिस हटा तो…

वहीं इस मामले में महाराष्ट्र के बीजेपी नेता नीतेश राणे ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि यदि पुलिस को 10 मिनट तक हटा दिया जाए तो अकबरुद्दीन को औरंगजेब की कब्र के पास ही ला देंगे. नीतेश राणे का भी यह कहना है की औरंगजेब की कब्र पर जा कर अकबरुद्दीन ने शिवाजी के सैनिकों की बदनामी की है.

Tags: Hanuman Chalisa, Maharashtra, Maharashtra Politics, Owaisi

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर