सुशांत सिंह राजपूत केस: आदित्य ठाकरे ने तोड़ी चुप्पी, बताया 'घटिया राजनीति'
Mumbai News in Hindi

सुशांत सिंह राजपूत केस: आदित्य ठाकरे ने तोड़ी चुप्पी, बताया 'घटिया राजनीति'
आदित्य ठाकरे ने कहा- इस मामले में सड़क छाप राजनीति हो रही है

Sushant Singh Rajput Suicide Case: आदित्‍य ठाकरे (Aaditya Thackeray) ने कहा क‍ि सुशांत सिंह राजपूत आत्‍महत्‍या मामले में व्‍यक्तिगत मेरे ऊपर और ठाकरे परिवार पर कीचड़ उछालने का काम कर रहे हैं. ये एक प्रकार का बेफजूल पैदा हुआ राजनीतिक पेट दर्द है. ये किसी मृतक की लाश के जरिए लाभ उठाने का प्रयास इंसानियत को कलंकित करने वाला है. इन सबका रत्‍ती भर पूरे मामले से कोई संबंध नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 8:27 PM IST
  • Share this:
मुंबई. कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट ने देश में हाहाकार मचा रखा है. महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) भी कोविड-19 (COVID-19) को पराजित करने की हर संभव प्रयास कर रही है. इस बीच कुछ लोगों को महाराष्ट्र सरकार को मिल रही शाबासी और उपलब्धि चुभ रही है. उन्‍हीं लोगों ने सुशांत सिंह राजपूत के मामले के जरिए गंदी राजनीति शुरू कर दी है. सुशांत सिंह राजपूत आत्‍महत्‍या मामले (Sushant Singh Rajput Suicide Case) में व्‍यक्तिगत मेरे ऊपर और ठाकरे परिवार पर कीचड़ उछालने का काम कर रहे हैं. ये एक प्रकार का बेफजूल पैदा हुआ राजनीतिक पेट दर्द है. ये किसी मृतक की लाश के जरिए लाभ उठाने का प्रयास इंसानियत को कलंकित करने वाला है. इन सबका रत्‍ती भर पूरे मामले से कोई संबंध नहीं है. महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे और राज्‍य के कैबिनेट मंत्री आदित्‍य ठाकरे ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्‍यम से यह बात कही.

आदित्‍य ठाकरे ने कहा कि बॉलीवुड ये मुंबई का महत्वपूर्ण अंग है. इस फ़िल्म इंडस्ट्री पर हजारों लोगों का रोजगार निर्भर है. उसमें से कई लोगों से निश्चित ही मेरे अच्छे सम्बन्ध हैं. ये कोई गुनाह नहीं है. सुशांत सिंह राजपूत का निधन जितना दुःखद है उतना ही आश्यर्चजनक है मुंबई पुलिस इस मामले की तहकीकात कर रही है. महाराष्ट्र पुलिस की विश्व स्‍तर पर प्रसिद्धि है. जिसको कानून पर विश्वास नहीं है वही लोग इस मामले में फालतू आरोपों का धुआं उड़ा रहे है और तहकीकात को भटकाने का प्रयास कर रहे हैं.

आदित्‍य ठाकरे ने कहा, 'मैं हिन्दू हृदय सम्राट बाला साहब ठाकरे के नाती होने के नाते बोलता हूं महाराष्ट्र का, शिवसेना और ठाकरे परिवार की प्रतिष्ठा दांव लगे ऐसा कोई भी काम मेरे द्वारा नहीं होगा. फालतू आरोप लगाने वाले लोगों को ये समझना चाहिए. इस मामले में किसी के पास कोई जानकारी हो तो मुम्बई पुलिस को दे. पुलिस इस पर तहकीकात करेगी. इस प्रकार के गलत आरोप के जरिये ठाकरे परिवार को बदनाम करने का प्रयास किसी के दिमाग में नहीं रहना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज