Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अर्णब की गिरफ्तारी का अन्वय नाइक के परिवार ने किया स्वागत, कहा- हमें सिर्फ न्याय चाहिए

    ANI से बातचीत में अन्वय नाइक की पत्नी अक्षिता नाइक ने कहा कि मैं मुंबई पुलिस का धन्यवाद करना चाहती हूं जिनकी वजह से ये दिन मेरी जिंदगी में आया है.
    ANI से बातचीत में अन्वय नाइक की पत्नी अक्षिता नाइक ने कहा कि मैं मुंबई पुलिस का धन्यवाद करना चाहती हूं जिनकी वजह से ये दिन मेरी जिंदगी में आया है.

    अक्षिता नाइक ने कहा, 'मेरे पति ने सुसाइड नोट में तीन लोगों का नाम लिखा था, लेकिन उन लोगों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं हुआ. आज महाराष्ट्र पुलिस ने एक्शन लिया है. मैं उनका धन्यवाद करती हूं. अगर मेरे पति को पैसा मिल गया होता, तो वे आज जीवित होते.'

    • Share this:
    मुंबई. अन्वय नाइक (Anvay Naik) के परिजनों ने बुधवार को पत्रकार अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami) की गिरफ्तारी का स्वागत किया है. अर्णब पर 53 वर्षीय इंटीरियर डिजायनर अन्वय नाइक और उनकी मां को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है. महाराष्ट्र की रायगढ़ पुलिस ने बुधवार की सुबह बड़े नाटकीय घटनाक्रम के बाद अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami) को गिरफ्तार किया.

    पीटीआई के अनुसार, अन्वय नाइक की पत्नी अक्षिता नाइक (Akshita Naik) ने कहा कि मैं मुंबई पुलिस (Mumbai Police) का धन्यवाद करना चाहती हूं जिनकी वजह से ये दिन मेरी जिंदगी में आया है. मैंने बहुत धैर्य रखा था. बावजूद इसके कि मेरे पति और मेरी सास मां वापस नहीं आ सकते, लेकिन मेरे लिए वे अभी भी जिंदा हैं. इससे पहले बुधवार की दोपहर मीडिया से बातचीत में अन्वय की बेटी और पत्नी ने कहा कि उन्होंने बहुत इंतजार किया है और उन्हें उम्मीद है कि न्याय मिलेगा.

    अक्षिता नाइक ने कहा, 'मेरे पति ने सुसाइड नोट में तीन लोगों का नाम लिखा था, लेकिन उन लोगों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं हुआ. आज महाराष्ट्र पुलिस ने एक्शन लिया है. मैं उनका धन्यवाद करती हूं. अगर मेरे पति को पैसा मिल गया होता, तो वे आज जीवित होते.'




    नाइक के परिजनों ने दावा किया कि उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय, साइबर सेल डिपार्टमेंट और आर्थिक अपराध शाखा को इस मामले में पत्र लिखा, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला.

    अन्वय की बेटी अदन्या नाइक (Adnya Naik) ने कहा, 'रिपब्लिक (Republic) ने मेरे पिता को 83 लाख रुपये का भुगतान नहीं किया. बाबा (पिता जी) ने उन्हें ईमेल भी किया, लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला. मेरे पिता को लगातार धमकी दी जाती रही, बाइकर्स ने उनका पीछा किया. लोग घर आते थे और बैठ जाते थे. हमारे फोन टैप किए गए. उन्होंने मेरा करियर भी तबाह करने की धमकी दी.'

    उन्होंने कहा, 'अर्णब एक प्रभावशाली व्यक्ति हैं और उनकी वजह से इस मामले को दबाया गया. हमें लोगों से समर्थन मिल रहा था, लेकिन ये गिरफ्तारी उस समय क्यों नहीं हुई. हम ये जानना चाहते हैं. हमें संस्थाओं पर भरोसा है और हमने हर एक दरवाजा खटखटाया.'

    अक्षिता नाइक ने कहा, 'अगर किसी को पांच हजार या पांच सौ का नुकसान हो जाए तो क्या आपको दुख नहीं होगा? क्या हमें जीने का अधिकार नहीं है या केवल अर्णब को जीने का अधिकार है? सुशांत सिंह राजपूत केस में अर्णब काफी कुछ बोल रहे थे. मेरे पति ने अपने सुसाइड नोट में अर्णब का नाम लिखा था, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. देशवासियों को सच का समर्थन करना चाहिए, इस मामले में राजनीतिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है.'

    नाइक के परिजनों ने सवाल उठाते हुए कहा कि अर्णब अपने बयान में कहते हैं कि उन्होंने अलीबाग में अपना बयान दर्ज कराया है, लेकिन उनका बयान ज्वॉइंट पुलिस कमिश्नर के ऑफिस में दर्ज कराया गया. एक पत्रकार को इतना विशेषाधिकार क्यों?

    उन्होंने कहा कि इस मामले में हमने तत्कालीन पुलिस कमिश्नर संजय बर्वे, रायगढ़ के एसपी अनिल पारस्कर और जांच अधिकारी सुरेश वरडे से मुलाकात की. हालांकि हमें अंत तक कोई जानकारी नहीं दी गई. हमें लगातार कहा गया कि आपको कोर्ट में बुलाया जाएगा, लेकिन बाद में पता चला कि केस बंद कर दिया गया.

    नाइक के परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस की ओर से उन पर दबाव था कि मामले में अपनी शिकायत वापस ले लें और ये कह दे कि मामला बदले की भावना से दायर किया गया था.

    इस बीच महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) ने कहा कि कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं है और महाराष्ट्र पुलिस कानून के मुताबिक कार्रवाई करेगी.

    उधर, सियासी गलियारों में भारतीय जनता पार्टी ने अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami) की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर निशाना साधा. केंद्र सरकार के कई मंत्रियों ने ट्वीट कर इस मामले में अपनी बात रखी और गोस्वामी की गिरफ्तारी की आलोचना की. (इनपुट एएनआई)
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज