महाराष्ट्र में कोरोना विस्फोट, सीएम उद्धव बोले- नियम मानिए नहीं तो होगी सख्ती

कोरोना वायरस महामारी को लेकर उद्धव ठाकरे ने बड़ा बयान दिया है.(File pic)

कोरोना वायरस महामारी को लेकर उद्धव ठाकरे ने बड़ा बयान दिया है.(File pic)

COVID-19 Cases in Maharashtra: महाराष्‍ट्र में कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है. रोजाना रिकॉर्ड स्‍तर के मामले सामने आ रहे हैं. सरकार ने 31 मार्च तक नए प्रतिबंध भी लगाए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2021, 3:41 PM IST
  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना विस्फोट ने एक बार फिर पूरे देश को हिला दिया है. इस बीच, राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर लोग कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं करेंगे तो भविष्य में सख्ती बरती जा सकती है और लॉकडाउन एक विकल्प हो सकता है. बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या 2020 के सितंबर वाले स्तर तक पहुंच चुकी है. केंद्र ने भी राज्य को तेजी से बढ़ते मामले रोकने की ताकीद की है.

उद्धव ने कहा कि राज्य में कोविड-19 के मामले सितंबर 2020 के स्तर पर पहुंच चुके हैं. अच्छी बात ये है कि हमारे पास इस वक्त वैक्सीन है. लोगों को वैक्सीन दी जा रही है. राज्य के निवासियों को नियमों का पालन करना चाहिए ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. लेकिन अगर नियमों को लोग नहीं मानेंगे तो भविष्य में सख्ती बरती जा सकती है.

Youtube Video

कोरोना पर सरकार की नई पाबंदी
बता दें कि महाराष्‍ट्र सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए 31 मार्च तक के लिए नए प्रतिबंध लगाए हैं. जिसके अनुसार, राज्‍य के सभी थिएटर, ऑडिटोरियम और प्राइवेट दफ्तर केवल 50 फीसदी क्षमता के साथ संचालित होंगे. इसके अलावा यह भी कहा गया है कि इन स्थानों पर ऐसे व्यक्तियों को एकदम प्रवेश न दिया जाए जिन्होंने सही तरीके से मास्क न पहना हो.

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र में कोरोना: पाबंदियां बढ़ीं, प्राइवेट ऑफिस में 50% कर्मचारियों के साथ ही काम

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र: मॉल में जाने से पहले कराना होगा एंटीजन टेस्ट, ये होंगे नए कोविड नियम



बता दें कि महाराष्‍ट्र में रोजाना रिकॉर्ड स्‍तर के कोरोना वायरस के मामले सामने आ रहे हैं. गुरुवार को यहां 25,833 नए मामले सामने आए थे जबकि इस दौरान 58 मरीजों की मौत हो गई थी. हालांकि 12,764 मरीज स्‍वस्‍थ भी हुए थे.


इस समय राज्‍य का सबसे ज्‍यादा कोरोना प्रभावित जिला नागपुर है. यहां पर गुरुवार को भी महामारी के 3,796 नए मामले सामने आए. जबकि इस दौरान 1,277 मरीज ठीक भी हुए और 23 मरीजों की मौत भी हो गई. नागपुर में अब तक 1,82,552 लोग संक्रमित हो चुके हैं  और 1,54,410 मरीज स्‍वस्‍थ भी हो चुके हैं. संक्रमण से 4,528 मरीजों की जान भी जा चुकी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज