Corona In Maharashtra: महाराष्‍ट्र में कोरोना का कहर, 28 मार्च से पूरे राज्य में नाइट कर्फ्यू

कोरोना के कहर को देखते हुए महाराष्‍ट्र में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. (फोटो साभार-News18 English)

कोरोना के कहर को देखते हुए महाराष्‍ट्र में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. (फोटो साभार-News18 English)

Maharashtra Night Curfew: कोरोना वायरस महामारी की बढ़ती रफ्तार को लेकर महाराष्‍ट्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सीएम उद्धव ठाकरे ने पूरे राज्य में 28 मार्च से नाइट कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 8:33 PM IST
  • Share this:
मु्ंबई. महाराष्ट्र में कोरोना की बेकाबू होती रफ्तार के बाद राज्य सरकार एक्शन में आ गई है. सीएम उद्धव ठाकरे ने पूरे राज्य में 28 मार्च से नाइट कर्फ्यू (Night Curfew In Maharashtra Latest News) लगाने का फैसला किया है.

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना के संक्रमण लगातार बढ़ते जा रहे हैं. सीएम उद्धव ने लोगों से कोरोना गाइडलाइंस मानने की अपील की थी लेकिन कोरोना संक्रमण में कमी नहीं आई थी. राज्य में रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा.

मुख्‍यमंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक के बाद लिया नाइट कर्फ्यू का फैसला

गौरतलब है कि आज सीएम ने सभी जिला अधिकारियो के साथ बैठक की और उसके बाद फैसला किया गया कि लॉकडाउन की बजाय नियम कड़े किए जाए इसलिए राज्य सरकार ने रविवार रात से नाइट कर्फ्यू लागने का फैसला किया. सीएम उद्धव ने कोरोना नियमों को पालन को लेकर भी आदेश जारी किए हैं. सीएम ने चेतावनी दी है कि अगर मरीजों की संख्या कम नहीं हुई तो नियमों को और ज्यादा सख्त किया जाएगा. उन्होंने आदेश दिया कि मॉल्स, बार और होटल्स के लिए बनाए गए नियमों का सही से पालन हो रहा है या नहीं, इसकी जांच की जाए.
ये भी पढ़ें: कोरोना: वर्क फ्रॉम होम, बाहरी गतिविधियों पर बैन, जानें टास्क फोर्स की महाराष्ट्र पर सलाह

ये भी पढ़ें: Corona: पूरे महाराष्ट्र में लग सकता है लॉकडाउन! अजित पवार बोले- 2 अप्रैल तक देखेंगे हालात

अजित पवार ने दी थी सख्‍ती की चेतावनी



इससे पहले, राज्‍य के उप मुख्‍यमंत्री अजित पवार ने लोगों को सख्त लॉकडाउन से बचने के लिए सामाजिक दूरी और मास्‍क के मानदंडों का सख्ती से पालन करने की चेतावनी दी थी.



अजित पवार ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर कंट्रोल करने के लिए बचाव से संबंधित नियमों का सख्‍ती से पालन कराया जा रहा है. संक्रमण के मामलों पर 2 अप्रैल तक नजर रखी जाएगी. अगर लोग कोरोना की गाइडलाइंस का पालन नहीं करेंगे तो लॉकडाउन लगाने के अलावा कोई दूसरा चारा नहीं बचेगा. उन्‍होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए देश के कई राज्‍यों में भी सख्‍ती बढ़ दी गई है. दिल्‍ली सरकार ने मास्‍क और नियमों का पालन न करने वालों से सख्‍ती से निपटने की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज