अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र में कोरोना गाइडलाइंस की उड़ीं धज्जियां, 500 से ज्यादा पर 'एक्शन'

रिपोर्ट्स के मुताबिक मुंबई में सोमवार को 500 से ज्यादा लोगों पर पुलिस ने मास्क ना पहनने पर जुर्माना लगाया. ANI
रिपोर्ट्स के मुताबिक मुंबई में सोमवार को 500 से ज्यादा लोगों पर पुलिस ने मास्क ना पहनने पर जुर्माना लगाया. ANI

Covid-19 in Maharashtra: बीएमसी की ओर से दी जानकारी के मुताबिक 21 फरवरी को 14,100 लोगों पर जुर्माना लगाते हुए प्रशासन ने 28.20 लाख रुपया वसूला.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 7:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने राज्य के नाम संबोधन में लोगों से सावधानी और सतर्कता बरतने की अपील की, लेकिन उनकी अपील का आम लोगों पर कोई असर नहीं दिखाई दे रहा है. मुंबई के क्राफोर्ड मार्केट में सोमवार को जबरदस्त भीड़ रही तो सोशल डिस्टैंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ीं. हालांकि इस दौरान पुलिस की मार्केट में तैनात रहीं और पुलिसकर्मियों ने जांच पड़ताल करते हुए बिना मास्क वाले लोगों पर जुर्माना भी ठोंका. पुलिस ने 200 रुपये का जुर्माना लगाते हुए मास्क ना पहनने वाले लोगों को मास्क भी बांटा. इस दौरान प्रशासन की ओर से माइक के जरिए लोगों से मास्क पहनने की अपील की जाती रही.

रिपोर्ट्स के मुताबिक मुंबई में सोमवार को 500 से ज्यादा लोगों पर पुलिस ने मास्क ना पहनने पर जुर्माना लगाया. बीएमसी ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों से मास्क पहनने की अपील की है. बीएमसी ने सोमवार को जुर्माने के तौर पर एक लाख से ज्यादा की जुर्माना वसूला और 500 से ज्यादा लोगों पर कार्रवाई की. बीएमसी की ओर से दी जानकारी के मुताबिक 21 फरवरी को 14,100 लोगों पर जुर्माना लगाते हुए प्रशासन ने 28.20 लाख रुपया वसूला. रविवार तक कुल 16 लाख से ज्यादा पर जुर्माना लगाया गया है और फाइन के तौर पर 32 करोड़ 41 लाख 14 हजार से ज्यादा का जुर्माना वसूला गया है. सिर उठाते वायरस संक्रमण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए बीएमसी मास्क पहनने के प्रति जागरूकता अभियान चला रही है.

दूसरी ओर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सोमवार की शाम तक देश में 1 करोड़ 14 लाख से ज्यादा लोगों का टीकाकरण हुआ है. इनमें 75 लाख से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मी हैं और इनमें से 64 लाख 25 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन का पहला डोज मिला है. 11 लाख से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन का दूसरा डोज भी लग गया है. इसी तरह 38 लाख 83 हजार से ज्यादा फ्रंटलाइन कर्मचारियों को वैक्सीन का पहला डोज दिया गया है.



स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी ने कहा कि 4 राज्यों, नागालैंड, पंजाब, चंडीगढ़ और पुडुचेरी में पहले डोज के लिए स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण 50 फीसदी से कम हुआ है. उन्होंने कहा कि देश के 8 राज्यों बिहार, त्रिपुरा, ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, झारखंड, उत्तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश में 75 फीसदी से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण हुआ है.
अगनानी ने कहा कि 10 राज्य ऐसे हैं, जिन्होंने फ्रंटलाइन वर्कर्स के मामले में वैक्सीन की पहली डोज देते हुए 50 फीसदी से ज्यादा का लक्ष्य हासिल किया है.

इन राज्यों में दादर एंड नगर हवेली, त्रिपुरा, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, यूपी, झारखंड, जम्मू और कश्मीर और हरियाणा शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज