लाइव टीवी

किसान की मांग- जब तक BJP-शिवसेना नहीं सुलझाते मसला, मुझे बनाओ मुख्यमंत्री

News18Hindi
Updated: November 1, 2019, 9:31 AM IST
किसान की मांग- जब तक BJP-शिवसेना नहीं सुलझाते मसला, मुझे बनाओ मुख्यमंत्री
श्रीकांत ने कहा कि महाराष्ट्र में किसान परेशानी का सामना कर रहा है. प्राकृतिक आपदाओं के चलते फसलों को खासा नुकसान हुआ है. (प्रतीकात्मक फोटो)

बीड जिले के रहने वाले श्रीकांत गडाले ने राज्यपाल (Governor) के नाम पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि किसानों की समस्याएं खत्म नहीं हो रही हैं, दूसरी तरफ शिवसेना और बीजेपी मुख्यमंत्री पद का मुद्दा नहीं सुलझा पा रहे हैं. इसलिए मतभेद सुलझने और नई सरकार गठन तक मुझे मुख्यमंत्री बनाया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 1, 2019, 9:31 AM IST
  • Share this:
औरंगाबाद. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Election 2019) के परिणाम आने के आठ दिन बाद भी सरकार गठन का रास्ता साफ नहीं हो सका है. सरकार बनाने और मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर गठबंधन की दोनों सहयोगियों बीजेपी और शिवसेना (BJP And Shiv Sena) के बीच खींचतान जारी है. कुर्सी की कसरत के बीच एक किसान (Farmer) की चिट्ठी ने सबको चौंका दिया है. बीड जिले के इस किसान ने बीजेपी (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) के बीच के मतभेदों के सुलझने और अगली सरकार बनने तक उसके मुख्यमंत्री बनने की इच्छा जताई है. किसान ने इसके लिए राज्यपाल (Governor) भगत सिंह कोश्यारी के नाम पत्र लिखा है और उसे बीड कलेक्टर को सौंपा है. केज तालुका के वडमौली निवासी किसान श्रीकांत विष्‍णु गडाले ने कहा कि एक तरफ किसानों की समस्याएं खत्म नहीं हो रही हैं, दूसरी तरफ शिवसेना और बीजेपी मुख्यमंत्री पद का मुद्दा नहीं सुलझा पा रहे हैं.

किसान परेशानी में है
श्रीकांत ने कहा कि महाराष्ट्र का किसान परेशानियों का सामना कर रहा है. प्राकृतिक आपदाओं के चलते फसलों को नुकसान हुआ है. कुछ इलाकों में फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है. ऐसे में किसान कर्ज के बोझ तले दब गया है. लेकिन वहीं विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद से शिवसेना और बीजेपी सीएम पद के मुद्दे को नहीं सुलझा सकी हैं.


Loading...

मैं किसानों को दिलाऊंगा न्याय
श्रीकांत ने पत्र में लिखा है कि इस समय किसान परेशान हैं, शिवसेना और बीजेपी सीएम पद का मुद्दा नहीं सुलझा पा रहे हैं तो इस मसले के खत्म होने तक राज्यपाल मुझे सीएम बना दें. मैं किसानों की समस्या हल करूंगा और उन्हें न्याय दिलवा कर रहूंगा.

50-50 का फाॅर्मूला लागू करने की मांग
बता दें कि 24 अक्टूबर को आए चुनाव नतीजों में बीजपी-शिवसेना गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिला है. बीजपी 105 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी है. जबकि उसकी सहयोगी शिवसेना के खाते में 56 सीटें आई हैं. शिवसेना, नई सरकार में 50-50 का फाॅर्मूला लागू करने की मांग कर रही है. साथ ही सीएम पद के लिए ढाई-ढाई साल मौका दिए जाने की भी बात कही है.

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में CM पद के लिए खींचतान,कांग्रेस नेताओं ने की पवार से मुलाकात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Aurangabad से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 8:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...