महाराष्ट्र: कोर्ट ने शिवसेना कार्यकर्ता की हत्या के मामले में आरोपी को जमानत देने से इनकार किया

फाइल फोटो
फाइल फोटो

महाराष्ट्र (Maharashtra) की एक अदालत ने 2018 में शिवसेना (Shiv Sena) के एक कार्यकर्ता की हत्या के मामले में आरोपी की जमानत याचिका खारिज कर दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 15, 2020, 4:49 PM IST
  • Share this:
ठाणे. महाराष्ट्र (Maharashtra) की एक कोर्ट (Court) ने ठाणे के शाहपुर में 2018 में शिवसेना (Shiv Sena) के एक कार्यकर्ता की हत्या के मामले के एक आरोपी की जमानत याचिका खारिज कर दी.

जिला जज शैलेन्द्र ताम्बे ने 11 नवंबर के अपने आदेश में कहा कि याचिकाकर्ता प्रमोद वामन लुटे (34) जमानत पाने का हकदार नहीं है. उसपर शाहपुर तहसील में शिवसेना (Shiv Sena) के पूर्व पदाधिकारी शैलेश निम्से (Shailendra Nimse) की हत्या की सुपारी (कॉन्ट्रैक्ट) लेने का आरोप है.

लुटे, निम्से की पत्नी और दो अन्य लोगों को निम्से की हत्या करने और शव को 20 अप्रैल 2018 को भिवंडी के देवचोले गांव में जलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.



अभियोजन के अनुसार, शैलेश निम्से के किसी और महिला के साथ संबंध थे, जिस कारण उसकी और उसकी पत्नी साक्षी उर्फ वैशाली निम्से (34) के बीच झगड़ा होता था.
उन्होंने बताया कि निम्से की पत्नी ने लुटे और दो अन्य लोगों की मदद से अपने पति की हत्या की और बाद में शव को जला दिया.

अतिरिक्त लोक अभियोजक संध्या जाधव ने लुटे की जमानत याचिका का यह कहते हुए विरोध किया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या), 201 (अपराध के सबूतों को मिटाने) और 120बी (आपराधिक साजिश) के तहत मामला दर्ज है.

इस पर जज ने अपने आदेश में कहा कि आरोपी के खिलाफ अपराध गंभीर प्रकृति का है और इसलिए उसकी जमानत याचिका खारिज की जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज