• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • देवेंद्र फडणवीस का खुलासा- 2 साल पहले बीजेपी के साथ जुड़ना चाहती थी NCP, लेकिन.....

देवेंद्र फडणवीस का खुलासा- 2 साल पहले बीजेपी के साथ जुड़ना चाहती थी NCP, लेकिन.....

देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना को लेकर बड़ा बयान दिया है.

देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना को लेकर बड़ा बयान दिया है.

भाजपा (BJP) नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने कहा कि एनसीपी (NCP) जब बीजेपी के साथ जुड़ना चाहती थी तो उस समय पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं ने कहा था कि हम शिवसेना (Shiv Sena) को अलग रखकर ऐसा नहीं कर सकते.

  • Share this:
    मुंबई. महाराष्‍ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने एनसीपी (NCP) को लेकर एक खुलासा किया है. पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा (BJP) नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा, '2 साल पहले एनसीपी ने हमारे साथ आने की इच्‍छा जाहिर की थी. इस पर पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं ने कहा था कि हम शिवसेना को अलग रखकर ऐसा नहीं कर सकते. पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं ने कहा था कि हम एनसीपी को अपने साथ ले सकते हैं, लेकिन हमें शिवसेना को भी अपने साथ रखना होगा.'

    अभी कुछ दिन पहले ही देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और उनकी सरकार पर निशाना साधा था. फडणवीस ने आरोप लगाया था कि राज्‍य सरकार कोरोना वायरस से हो रही मौतों का आंकड़ा दबा रही है. इसके संबंध में उन्‍होंने महाराष्‍ट्र सरकार को एक पत्र लिखा है. देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट करके सवाल किए थे, 'मुंबई में कोविड 19 के कारण हुई 950 से अधिक मौतों को क्‍यों दबाया गया? ऐसी बड़ी लापरवाही क्‍यों की गई?



    फडणवीस ने पत्र में कहा था कि हमें जानकारी मिली है कि महाराष्‍ट्र में 451 ऐसी मौतें हुई हैं, जिन्हें कोविड 19 में शामिल नहीं किया गया है. आईसीएमआर के दिशा-निर्देश देखें तो ये सभी मौतें कोविड 19 से जुड़ी हुई थीं लेकिन डेथ ऑडिट कमेटी ने इसे कोविड में शामिल नहीं किया. उन्‍होंने लिखा था, 'कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़ी 500 मौत की घटनाएं ऐसी हैं जिसे डेथ ऑडिट कमेटी ने रिपोर्ट नहीं किया है. इस तरह राज्‍य में करीब 950 मौत की घटनाओं को दबा दिया गया है. किसके इशारे पर मौत के आंकड़े दबाए जा रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज