महाराष्ट्र में अनलॉक के 5 लेवल, जानिए किस लेवल में क्या छूट मिलेगी

लेवल 1 में राज्य सरकार ने उन जिलों को रखा है, जहां संक्रमण दर पांच फीसदी से कम है. फाइल फोटो

लेवल 1 में राज्य सरकार ने उन जिलों को रखा है, जहां संक्रमण दर पांच फीसदी से कम है. फाइल फोटो

Unlock in Maharashtra: राज्य के 18 ऐसे जिलों में अब पाबंदियों में ढील दी जाएगी, जहां संक्रमण की दर पांच प्रतिशत अथवा उससे कम है और अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुविधा वाले 75 प्रतिशत से ज्यादा बिस्तर खाली हों.

  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के 18 ऐसे जिलों में कोविड-19 संबंधी पाबंदियों में शुक्रवार से ढील देने की घोषणा की है, जहां संक्रमण दर और अस्पतालों में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की जरूरत वाले मरीजों की संख्या में कमी आई है. आपदा प्रबंधन मंत्री विजय वडेत्तिवार ने बृहस्पतिवार को राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक के बाद यह घोषणा की. मंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर से निपटने के लिए अप्रैल में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लगायी गई थीं. उन्होंने कहा कि राज्य के 18 ऐसे जिलों में अब पाबंदियों में ढील दी जाएगी जहां संक्रमण की दर पांच प्रतिशत अथवा उससे कम है और अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुविधा वाले 75 प्रतिशत बिस्तर खाली हों.

महाराष्ट्र में बुधवार को 29,270 मरीजों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई. इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमण मुक्त होने वालों की कुल संख्या 54,60,589 हो गई है. राज्य में इस समय 2,16,016 उपचाराधीन मरीज है. विभाग ने बताया कि प्रदेश में संक्रमण मुक्त होने की दर 94.54 हो गई है जो एक दिन पहले यह 94.28 प्रतिशत थी. वहीं मृत्युदर 1.67 प्रतिशत है.

महाराष्ट्र सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक जानिए कि किस लेवल में राज्य सरकार क्या छूट दे रही है.

लेवल 1 में राज्य सरकार ने उन जिलों को रखा है, जहां संक्रमण दर पांच फीसदी से कम है और ऑक्सीजन बेड पर मरीजों की संख्या की संख्या कुल उपलब्ध बेडों की संख्या के मुकाबले 25 फीसदी से कम है.
इस लेवल के तहत आने वाले जिलों में शुक्रवार से रेस्टोंरेंट, मॉल्स, दुकानें, लोकल ट्रेनें, सार्वजनिक स्थल, पर्यटक स्थल, सरकारी और प्राइवेट दफ्तर, थियेटर, शूटिंग, सार्वजनिक कार्यक्रम, शादी विवाह, जिम, सैलून, ब्यूटी पार्लर को खोलने की अनुमति दे दी गई है.

लेवल 1 में औरंगाबाद, भंडारा, बुलढाणा, चंद्रपुर, धुले, गढ़चिरौली, गोंदिया, जलगांव, जालना, लातूर, नागपुर, नांदेड़, नासिक, यवतमाल, वाशिम, वर्धा, परभणी और ठाणे शामिल हैं. इन जिलों में शुक्रवार से सभी प्रकार की पाबंदियों को हटा लिया जाएगा.

मुंबई में आंशिक रूप से पाबंदियों में ढील दी जाएगी, लेकिन मायानगरी की लाइफलाइन कही जाने वाले लोकल ट्रेन सेवा को अभी फिलहाल आम लोगों के लिए नहीं खोला जाएगा.



लेवल-2

इस लेवल के जिलों में धारा 144 लागू रहेगी. हालांकि जिम, सैलून, ब्यूटी पार्लर को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोलने की अनुमति दी गई है. शादी विवाह में सीमित संख्या में लोगों को शामिल होने की अनुमति दी जाएगी. इस लेवल में जो जिले शामिल हैं, उनमें मुंबई, अहमदनगर, अमरावती, हिंगोली और नंदूरबार हैं.

लेवल-3

इस लेवल के जिलों में अकोला, बीड, कोल्हापुर, उस्मानाबाद, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, सांगली, सतारा, पालघर और सोलापुर शामिल हैं.

लेवल-4

राज्य के जो जिले लेवल-4 में शामिल हैं, उनमें पुणे और रायगढ़ शामिल हैं.

लेवल-5

इस लेवल के जिलों में यात्रा करने के लिए ई-पास की आवश्यकता होगी, क्योंकि इन जिलों में संक्रमण दर अब भी काफी ज्यादा है. हालांकि राज्य के अन्य जिलों में यात्रा के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट की जरूरत नहीं होगी.

बता दें कि 1 जून को महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना संक्रमण दर और ऑक्सीजन बेड की उपलब्धता के आधार पर कई जिलों को लॉकडाउन जैसी पाबंदियों से छूट दी थी. गाइडलाइंस के मुताबिक आवश्यक सेवाओं वाली दुकानें सुबह 7 बजे से दोपहर के 2 बजे तक खुली रहेंगी. इन नियम उन इलाकों में लागू होंगे, जहां संक्रमण दर दस प्रतिशत से कम है और अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड पर मरीजों की संख्या कुल बेड की संख्या के मुकाबले 40 फीसदी से कम है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को राज्य में 15 दिनों के लिए लॉकडाउन बढ़ाने का ऐलान किया.

राज्य सरकार ने अपनी गाइडलाइन में एक अहम ऐलान करते हुए कहा कि 2011 की जनगणना के मुताबिक जिन म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में आबादी की संख्या 10 लाख से ज्यादा से ज्यादा है, उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण को काबू करने के लिए प्रशासन की स्वतंत्र यूनिट माना जाएगा. 10 लाख से ज्यादा की आबादी वाले नगरीय निकायों में मुंबई, थाने, नवी मुंबई, कल्याण डोम्बिवली, वसई विरार, पुणे, पिंपरी चिंचवाड़, नागपुर, औरंगाबाद और नासिक शामिल हैं. कोरोना से लड़ाई में इन नगरीय निकायों को प्रशासन की स्वतंत्र इकाई माना जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज