अमृता फडणवीस के ट्वीट पर महाराष्‍ट्र के मंत्री का जवाब- पुलिस पर भरोसा नहीं तो छोड़ दें राज्‍य
Mumbai News in Hindi

अमृता फडणवीस के ट्वीट पर महाराष्‍ट्र के मंत्री का जवाब- पुलिस पर भरोसा नहीं तो छोड़ दें राज्‍य
अमृता फडणवीस के ट्वीट पर महाराष्‍ट्र के मंत्री ने जवाब दिया है.

Sushant Singh Rajput Case: सुशांत सिंह राजपूत मामले में अमृता फडणवीस (Amrita Fadvavis) ने सोमवार को ट्वीट किया, 'जिस हिसाब से सुशांत सिंह राजपूत के मौत के मामले को हैंडल किया गया, मुझे लगता है कि मुंबई (Mumbai) ने अपनी इंसानियत खो दी है और अब ये शहर मासूम, स्वाभिमानी लोगों के रहने के लिए सुरक्षित नहीं है.' महाराष्‍ट्र सरकार में मंत्री अनिल परब ने इसपर कहा कि उन्‍हें राज्‍य छोड़ देना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 10:13 PM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत मामले में अब राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है. इस बीच, महाराष्‍ट्र (Maharashtra) के पूर्व मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) की पत्‍नी अमृता फडणवीस (Amrita Fadnavis) के ट्वीट पर महाराष्‍ट्र के मंत्री अनिल परब ने प्रतिक्रिया दी है. अनिल परब ने मंगलवार को कहा क‍ि सरकार बदलने के साथ ही पुलिस में कोई बदलाव नहीं होता है. पिछले साल तक जिनके अंडर में पुलिस काम करती थी, अगर अब भी वे पुलिस पर भरोसा नहीं करते तो उन्‍हें राज्‍य छोड़ देना चाहिए. अब ऐसा क्‍या हो गया है कि अमृता फडणवीस को डर लग रहा है. अनिल परब ने कहा कि पिछले 5 वर्षों में आत्‍महत्‍या और मौत की कई घटनाएं सामने आई हैं. क्‍या सभी मामले सीबीआई को ट्रांसफर कर दिए गए थे. मुंबई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच में सक्षम है. हम उनका समर्थन करते हैं.

दरअसल, सुशांत सिंह राजपूत मामले में अमृता फडणवीस ने सोमवार को ट्वीट किया. #JusticeforSushantSingRajput और #JusticeForDishaSalian हैशटैग के साथ अमृता फडणवीस ने लिखा, 'जिस हिसाब से सुशांत सिंह राजपूत के मौत के मामले को हैंडल किया गया, मुझे लगता है कि मुंबई ने अपनी इंसानियत खो दी है और अब ये शहर मासूम, स्वाभिमानी लोगों के रहने के लिए सुरक्षित नहीं है.' जिसपर अब महाराष्‍ट्र सरकार में मंत्री अनिल परब ने जवाब दिया है.


सुशांत मामले से कोई लेना-देना नहीं: आदित्य ठाकरे
महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले में उन्हें और उनके परिवार को बेवजह निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि इस मामले से उनका कोई लेना-देना नहीं है. शिवसेना के नेता ने कहा कि बॉलीवुड अभिनेता की मौत के बाद गंदी राजनीति हो रही है. उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि हताशा के कारण हो रहे राजनीतिक पेटदर्द के चलते आरोप लगाए जा रहे हैं. पर्यटन मंत्री ने कहा कि वह शिवसेना के संस्थापक और दिवंगत बाल ठाकरे के पौत्र हैं और ऐसा कोई काम नहीं करेंगे जिससे महाराष्ट्र और उनके परिवार की छवि पर आंच आए.



आदित्य ठाकरे ने ट्विटर पर जारी बयान में कहा कि महाराष्ट्र सरकार कोविड-19 से निपटने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है और जो लोग संभवत: एमवीए (महाराष्ट्र विकास अगाडी) की लोकप्रियता से जल रहे हैं उन्होंने मौत के मामले में गंदी राजनीति शुरू कर दी है. उन्होंने कहा कि किसी की मौत से फायदा उठाना मानवता पर धब्बा है. वास्तव में इस प्रकरण से उनका कोई लेना-देना नहीं है. उन्होंने कहा कि बॉलीवुड मुंबई का महत्पूर्ण हिस्सा है और रोजगार के लिए हजारों लोग फिल्म उद्योग पर निर्भर हैं.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के 30 वर्षीय बेटे ने कहा कि बॉलीवुड में कई लोगों के साथ उनका सौहार्दपूर्ण संबंध है और यह कोई अपराध नहीं है. उन्होंने दावा किया कि राजपूत मामले में जांच को भटकाने का प्रयास किया जा रहा है. इसकी जांच मुंबई और पटना पुलिस कर रही है. आदित्य ठाकरे ने कहा कि राजपूत की मौत दुर्भाग्यपूर्ण मामला है और निराशाजनक भी है और मुंबई पुलिस इसकी विस्तृत जांच कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज