SSR Case : ड्रग्‍स मामले में रिया चक्रवर्ती को भेजा गया जेल, इस वजह से जमानत मिलना मुश्किल
Mumbai News in Hindi

SSR Case : ड्रग्‍स मामले में रिया चक्रवर्ती को भेजा गया जेल, इस वजह से जमानत मिलना मुश्किल
रिया चक्रवर्ती को ड्रग्‍स केस में भेजा गया है जेल.

Sushant singh rajput case: रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के ड्रग्‍स मामले में एनसीबी (NCB) ने एनडीपीएस की धारा 27A जोड़ दी है. इससे रिया की मुश्किल और बढ़ गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 2:24 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) से जुड़े ड्रग्‍स मामले की जांच कर रही नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो (NCB) ने रिया चक्रवर्ती को मंगलवार को गिरफ्तार किया है. रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने पूरी रात एनसीबी के लॉकअप में गुजारी. इसके बाद उन्‍हें बुधवार सुबह मुंबई की भायखला जेल में शिफ्ट कर दिया गया है. ऐसी खबरें सामने आ रही थीं कि रिया जमानत के लिए भी याचिका दायर करेंगी. लेकिन अब एनसीबी ने उनकी जमानत को लेकर एक पेच फंसा दिया है. एनसीबी ने रिया के खिलाफ एनडीपीएस एक्‍ट की एक और धारा जोड़ दी है. इससे उन्‍हें जमानत मिलने में मुश्किल हो सकती है.

जानकारी के अनुसार रिया चक्रवर्ती के ड्रग्‍स मामले में एनसीबी ने एनडीपीएस की धारा 27A जोड़ दी है. इससे रिया की मुश्किल और बढ़ गई है. इस धारा के तहत अधिकतम 20 साल तक की सजा का प्रावधान है. जब एफआईआर दर्ज हुई थी, तब ये धारा नहीं उल्लिखित थी. लेकिन गिरफ्तारी के समय इसे एफआईआर में जोड़ा गया है. ये एनडीपीएस एक्‍ट की सख्‍त धारा है और इसमें जमानत मिलना भी मुश्किल होता है.

यह भी पढ़ें: सुशांत सिंह केस: जेल भेजी गईं रिया चक्रवर्ती, पढ़ें अब तक के 10 अपडेट्स



इस मुद्दे पर सीनियर एडवोकेट केके मेनन का कहना है कि इस धारा के तहत रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें बढ़ गई हैं और जमानत मुश्किल है.
एनसीबी ने दावा किया कि रिया चक्रवर्ती मादक पदार्थ 'सिंडिकेट' की एक्टिव मेंबर थीं. उन्होंने अपने लिव इन पार्टनर सुशांत सिंह राजपूत के लिए मादक पदार्थ (ड्रग्स) खरीदे थे. इसमें रिया के भाई शौविक ने बखूबी साथ दिया था. हालांकि, एनसीबी ने पहले यह भी बताया था कि वह एक्ट्रेस को हिरासत में नहीं रखना चाहती है, क्योंकि उनसे तीन दिन तक पूछताछ हो चुकी है. लेकिन, मंगलवार शाम 5:30 बजे तक उन्हें अरेस्ट कर लिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज