अनलॉक पर उद्धव सरकार का यूटर्न, बीजेपी का तंज, MVA सरकार खुद गिरेगी, ऑपरेशन लोटस की जरूरत नहीं

बीजेपी नेता रामकदम ने कहा,

बीजेपी नेता रामकदम ने कहा, "महा विकास अघाड़ी में विरोधाभास की स्थिति इस सरकार को सत्ता से बाहर कर देगी. ऑपरेशन लोटस की जरूरत नहीं पड़ेगी." फाइल फोटो

Uddhav Government takes uturn on Unlock: रिपोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने पत्रकारों को फोन कर कहा कि वेडट्टिवर का बयान गलत है और इसे प्रचारित नहीं किया जाना चाहिए.

  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र में अनलॉक के मामले में उद्धव सरकार के यूटर्न पर विपक्षी पार्टी बीजेपी ने चुटकी ली है. बीजेपी विधायक रामकदम ने शुक्रवार को राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि महा विकास अघाड़ी सरकार में एकमत नहीं है. दरअसल गुरुवार को राज्य सरकार में कांग्रेस कोटे से विधायक और आपदा मंत्री विजय वेडट्टिवर ने कहा कि राज्य सरकार ने 5 चरणों में अनलॉक का फैसला लिया है और शुक्रवार से राज्य के 18 जिलों में लॉकडाउन जैसी कोई पाबंदी नहीं रहेगी. हालांकि गुरुवार की शाम को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि इस तरह की कोई योजना नहीं है. बाद में वेडट्टिवर ने कहा कि इस तरह का कोई फैसला नहीं लिया गया है और अभी सिर्फ विचार चल रहा है.

महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधते हुए रामकदम ने कहा, "ऐसी चीजें बार-बार हो रही हैं और इससे पता चलता है कि तीनों पार्टियों में एकजुटता और एकमत का अभाव है. परिणाम यह हुआ कि राज्य सरकार कोरोना वायरस महामारी से निपटने में असफल रही है. कांग्रेस एक राष्ट्रीय पार्टी है, लेकिन दो क्षेत्रीय पार्टियां उस पर हावी हैं. पार्टी का सम्मान और आत्मविश्वास कहां है. महा विकास अघाड़ी की पार्टियों में विरोधाभास की स्थिति इस सरकार को सत्ता से बाहर कर देगी. सरकार को गिराने के लिए ऑपरेशन लोटस की जरूरत नहीं पड़ेगी."

इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने पत्रकारों को फोन कर कहा कि वेडट्टिवर का बयान गलत है और इसे प्रचारित नहीं किया जाना चाहिए. बाद में मुख्यमंत्री कार्यालय ने स्पष्टीकरण जारी करते हुए कहा कि वेडट्टिवर का बयान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और अन्य मंत्रियों की राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ बैठक के तुरंत बाद सामने आया. बैठक में पांच चरणों में अनलॉक की प्रक्रिया पर विस्तार से चर्चा हुई थी. वेडट्टिवर का बयान सार्वजनिक होने के तुरंत बाद पूरे देश में चर्चा होने लगी.

राज्य सरकार ने अपने स्पष्टीकरण में कहा, "कोरोना की दूसरी लहर अभी कमजोर नहीं पड़ी है और ग्रामीण इलाकों में संक्रमण बढ़ा है. अभी एक प्रस्ताव पर चर्चा हो रही है कि लॉकडाउन में किस तरह ढील दी जाए... लेकिन इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं दी गई है. राज्य में अनलॉक की प्रक्रिया के लिए पांच स्तरीय अनलॉक की प्रक्रिया की योजना बनाई जा रही है और राज्य सरकार इस बारे में औपचारिक रूप से जानकारी देगी. राज्य सरकार प्रत्येक जिलों में हालात का जायजा ले रही है."

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज