SSR केस : BJP विधायक की CM उद्धव से मांग- मुंबई पुलिस कमिश्‍नर को छुट्टी पर भेजा जाए
Mumbai News in Hindi

SSR केस : BJP विधायक की CM उद्धव से मांग- मुंबई पुलिस कमिश्‍नर को छुट्टी पर भेजा जाए
सुशांत सिंह केस को लेकर बीजेपी विधायक अतुल भातखलकर पर मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा है. (फाइल फोटो)

Sushant Singh Rajput case: भारतीय जनता पार्टी के विधायक अतुल भातखलकर (BJP MLA Atul Bhatkhalkar) ने मांग की है कि मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Mumbai CP Parambir Singh) को अनिवार्य अवकाश पर भेजा जाए. मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) को लिखे गए पत्र में भातखलकर ने कहा कि अगर मुख्‍यमंत्री के द्वारा उनकी मांग नहीं मानी गई तो वह केंद्रीय गृह मंत्री से संपर्क करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 7, 2020, 7:44 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत केस (sushant Singh Rajput Case) हर दिन नया मोड़ ले रहा है और रोजाना नए खुलासे हो रहे हैं. इस बीच मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की कार्रवाई को लेकर आरोप प्रत्‍यारोप भी चल रहे हैं. कुछ लोग पुलिस की जांच पर सवाल भी उठा रहे हैं. इस बीच, शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी के विधायक अतुल भातखलकर (BJP MLA Atul Bhatkhalkar) ने मांग की है कि मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Mumbai CP Parambir Singh) को अनिवार्य अवकाश पर भेज दिया जाए. मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) को लिखे गए पत्र में भातखलकर ने कहा कि अगर मुख्‍यमंत्री द्वारा उनकी मांग नहीं मानी गई तो वह केंद्रीय गृह मंत्री से संपर्क करेंगे. भातखलकर ने कहा कि यह मांग इसलिए की गई है क्‍योंकि मुंबई पुलिस ने सुशांत केस में अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की है. साथ ही दिशा सालियान मामले में भी कार्रवाई नहीं की गई है.

भाजपा नेता ने सुशांत के मनोचिकित्सक को लेकर सवाल उठाए
भाजपा नेता आशीष शेलार ने शुक्रवार को सुशांत सिंह राजपूत की मनोचिकित्सक (साइकोथेरेपिस्ट) सुसान वाकर मोफात पर आरोप लगाया कि वह कानून का उल्लंघन करते हए दिवंगत अभिनेता के मानसिक स्वास्थ्य का विवरण मीडिया के साथ साझा कर रही हैं. शेलार ने यह भी सवाल किया कि क्या विदेशी नागरिक सुसान वाकर भारत में अवैध रूप से प्रैक्टिस कर रही हैं. उन्होंने मांग की कि विभिन्न एजेंसियों द्वारा उनकी भी जांच करायी जाए.

शेलार ने ट्वीट कर सवाल किया कि सुसान वाकर क्यों अभिनेता के मानसिक स्वास्थ्य का विवरण अवैध रूप से मीडिया को दे रही हैं? इसके अलावा शेलार ने क्या वह पुलिस को गुमराह करना चाहती हैं? क्या उन्होंने जानकारी छुपायी? शेलार ने मांग की कि पुलिस, सीबीआई, आयकर, ईडी आदि से जांच करायी जानी चाहिए. शेलार ने एक वीडियो संदेश में आरोप लगाया, "उन्होंने एक चैनल को राजपूत के बारे में जानकारी दी. मानसिक स्वास्थ्य कानून के अनुसार यह जानकारी साझा नहीं की जा सकती." शेलार ने यह सवाल भी किया कि क्या भारतीय पुनर्वास परिषद ने मनोचिकित्सक के रूप में भारत में काम करने के लिए वाकर को अनुमति दी है या नहीं और इसके लिए उनके पास बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) या मुंबई पुलिस का अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) है या नहीं.
रिया चक्रवर्ती धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेश हुईं


अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने की आरोपी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से दर्ज धन शोधन मामले में केंद्रीय एजेंसी के समक्ष पेश हुईं. अभिनेत्री बलार्ड एस्टेट क्षेत्र में स्थित एजेंसी के कार्यालय में दोपहर से पहले पेश हुईं. रिया अपने भाई शौविक के साथ आई थीं. चकवर्ती की कारोबारी प्रबंधक श्रुति मोदी भी एजेंसी द्वारा तलब किए जाने के शीघ्र बाद पेश हुईं. मोदी राजपूत के लिए भी काम करती थीं.

अधिकारियों ने बताया कि चक्रवर्ती और मोदी का बयान धन शोधन रोकथाम अधिनियम के तहत दर्ज किया गया. उन्होंने बताया कि राजपूत के दोस्त और उनके साथ रहने वाले सिद्धार्थ पिठानी को भी धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को पेश होने के लिए तलब किया है. इन्हें भी अभिनेता के पिता द्वारा बिहार पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत के संबंध में तलब किया गया है. पिठानी अभी मुंबई से बाहर बताए गए हैं. समाचार चैनलों को दिए गए कई साक्षात्कार में वह यह कह चुके हैं कि वह 14 जून को अभिनेता के बांद्रा स्थित फ्लैट में थे. अभिनेता ने 14 जून को फांसी लगा ली थी.

सुशांत के पिता केके सिंह ने की थी पुलिस में शिकायत
ऐसा कहा जा रहा है कि आईटी पेशेवर पिठानी एक साल से राजपूत के साथ रह रहे थे. वह इस मामले में मुंबई पुलिस द्वारा दुर्घटनावश मौत रिपोर्ट (एडीआर) जांच में अपना बयान पुलिस में दर्ज करा चुके हैं. हालांकि एजेंसी द्वारा शौविक से पूछताछ की बात अभी स्पष्ट नहीं हुई है क्योंकि वह कुछ घंटे के बाद ही एजेंसी के कार्यालय से बाहर आ गए थे. राजपूत के पिता केके सिंह ने अभिनेत्री और उनके कुछ रिश्तेदारों के खिलाफ पटना पुलिस में 25 जुलाई को शिकायत दर्ज कराई थी और उन पर धोखाधड़ी करने एवं अभिनेता को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था. चक्रवर्ती ने शुरू में एजेंसी से अपील की थी कि उच्चतम न्यायालय में उनकी याचिका की सुनवाई होने तक धनशोधन मामले में उनका बयान दर्ज नहीं किया जाए.

रिया के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा कि ईडी द्वारा मीडिया में अभिनेत्री के आग्रह को खारिज करने की जानकारी देने के बाद वह निदेशालय के कार्यालय में पेश हुईं. वकील ने अपने बयान में कहा कि 28 वर्षीय अभिनेत्री कानून का पालन करने वाली नागरिक हैं और वह पुलिस के साथ जांच में सहयोग करेंगी. चक्रवर्ती ने न्यायालय में याचिका दायर करके बिहार पुलिस द्वारा दर्ज मामले को स्थानांतरित कर मुंबई पुलिस को सौंपे जाने का अनुरोध किया था. इस याचिका पर अगले सप्ताह सुनवाई होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading