महाराष्‍ट्र के मंत्री असलम शेख ने सुशांत केस के गवाहों को दिलाया सुरक्षा का भरोसा
Mumbai News in Hindi

महाराष्‍ट्र के मंत्री असलम शेख ने सुशांत केस के गवाहों को दिलाया सुरक्षा का भरोसा
असलम शेख ने दिलाया भरोसा.

Sushant singh rajput case: मंत्री ने कहा कि मुंबई पुलिस के पास अब तक कोई भी एक गवाह नहीं आया है और पुलिस को नहीं बताया है कि उसे धमकियां मिल रही हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2020, 11:38 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) के मंत्री असलम शेख (Aslam Shaikh) ने सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant singh rajput) के गवाहों को सुरक्षा का भरोसा दिया है. उन्‍होंने कहा कि सुशांत केस की जांच से जुड़े गवाह में से अगर किसी को धमकियां मिल रही हैं या किसी को जान का खतरा है तो वह मुंबई पुलिस के पास शिकायत करें मुंबई पुलिस की तरफ से मैं आश्वासन देता हूं की उन्हें सारी सुरक्षा प्रदान की जाएगी.

उन्‍होंने कहा कि मुंबई पुलिस दुनिया की बेहतरीन पुलिस में से एक है उस पर सभी को भरोसा होना चाहिए लेकिन जिस तरीके से शरद पवार ने कहा कि अगर किसी को लगता है की सीबीआई जांच कराने से तथ्य सामने आएंगे तो वह करवा सकता है. लेकिन बिना सबूत के बात करना ठीक नहीं है कुछ लोग इसमें मीडिया की सुर्खियां बनने के लिए बयान बाजी कर रहे हैं. मुंबई पुलिस की जांच सही दिशा में चल रही है.

असलम शेख ने कहा कि सुशांत केस में सबसे पहले मैंने ही था, जिन्होंने कहा था कि इस मामले में फेयर इन्वेस्टिगेशन होना चाहिए और मुंबई जांच भी रही है. किसी की जान जाती है तो वह जांच होकर उसके तथ्य सामने आने चाहिए लेकिन मीडिया ट्रायल हो रहा है. कभी किसी नेता का नाम लिया जाता है कभी किसी दूसरे व्यक्ति का नाम लिया जाता है.



उन्‍होंने कहा कि जो मुंबई पुलिस पर सवाल खड़े कर रहे हैं वह यह बताएं कि मुंबई पुलिस की इन्वेस्टिगेशन में कहां गलतियां हो रही हैं. चैनल पर बैठकर डिबेट करने से नहीं मतलब है अगर किसी के पास मुंबई पुलिस की गलतियों का पेपर है साक्ष्य है तो वह लेकर आए बताए.
असलम शेख ने कहा कि अगर बिहार के चुनाव नहीं होते तो शायद मीडिया इस इंसिडेंट को इतना नहीं दिखाता. मुंबई पुलिस का इन्वेस्टिगेशन खत्म नहीं हुआ की बिहार में एक मामला दर्ज होता है बिहार पुलिस का इन्वेस्टिगेशन खत्म नहीं होता तब तक सीबीआई का इन्वेस्टिगेशन शुरू हो जाता है वहां पर मामला दर्ज होता है.

मंत्री ने कहा कि मुंबई पुलिस के पास अब तक कोई भी एक गवाह नहीं आया है और पुलिस को नहीं बताया है कि उसे धमकियां मिल रही हैं या उसे धमकाने की कोशिश कर रहा है. अगर कोई भी गवाह इन्वेस्टिगेशन से कोई भी छेड़खानी करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज