अपना शहर चुनें

States

Bhandara Hospital Fire: 3 नवजात की अस्पताल की आग में जलने से, 7 की दम घुटने से हुई मौत- स्वास्थ्य मंत्री टोपे

महाराष्ट्र के भंडारा डिस्ट्रिक्ट जनरल हॉस्पिटल में कल रात आग लग गई थी.
महाराष्ट्र के भंडारा डिस्ट्रिक्ट जनरल हॉस्पिटल में कल रात आग लग गई थी.

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने कहा कि इस हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं. इस मामले में किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा. प्रत्येक मृतक शिशु के परिवार के सदस्यों को 5 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 12:48 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के भंडारा जिला अस्पताल (Bhandara District General Hospital) में शुक्रवार की रात आग लगने से सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट में मौजूद 10 नवजात बच्चों (child Killed in Fire) की मौत हो गई. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने बताया कि अभी तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक तीन नवजात बच्चों की आग में झुलसने से जबकि सात की दम घुटने से मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस पूरे हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं. इस मामले में किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा कि प्रत्येक मृतक शिशु के परिवार के सदस्यों को 5 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा.

महाराष्ट्र के भंडारा के जिला अस्पताल में आग लगने की 10 नवजातों की मौत पर दुख जताते हुए राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, आग लगने के बाद मेडिकल स्टाफ ने न्यूबॉर्न केयर यूनिट वार्ड की सभी खिड़कियों और दरवाजों को खोल दिया और शिशुओं को बगल के वार्ड में स्थानांतरित कर दिया. हालांकि, वे 17 में से 10 शिशुओं को नहीं बचा सके.

मंत्री ने कहा, 'ड्यूटी पर मौजूद चिकित्साकर्मियों ने नवजात सघन देखरेख इकाई की खिड़कियां और दरवाजे खोल दिए और शिशुओं को साथ लगे वार्ड्स में ट्रांसफर किया. लेकिन वे 10 शिशुओं की जाने नहीं बचा सके.'

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, शवों को अंतिम संस्कार के लिए उनके परिजनों को सौंप दिया गया है उन्होंने कहा, इस घटना के लिए जिम्मेदार व्यक्तियों को बख्शा नहीं जाएगा. विस्तृत जांच का आदेश दिया गया है. हम इस त्रासदी से सीखकर भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचने की कोशिश करेंगे.



इसे भी पढ़ें :- नवजातों की मौत पर 5 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान, फडणवीस बोले- दोषियों के खिलाफ कार्रवाई हो

दोषियों के खिलाफ कार्रवाई हो
इधर, राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने लापरवाही करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की है. उन्होंने मृतकों के परिवारों को सांत्वना दी है. फडणवीस ने कहा 'भंडारा जिला अस्पताल में हुए आग्निकांड, जिसमें 10 बच्चों ने अपनी जान गंवा दी है. वह बेहद दुखद और परेशान करने वाला है.' उन्होंने लिखा, 'दुख की घड़ी में परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. इस मामले की ठीक तरह से जांच की जानी चाहिए और दोषियों को खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज