महाराष्ट्र: ट्रोलिंग को लेकर BJP ने की पुलिस से शिकायत, NCP ने कहा- भूतकाल को याद करो
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र: ट्रोलिंग को लेकर BJP ने की पुलिस से शिकायत, NCP ने कहा- भूतकाल को याद करो
भाजपा नेता ने कहा जब नेता विपक्ष को इस तरह की धमकी दी जा रही है तो महाराष्ट्र में आम आदमी कैसे सुरक्षित रहेगा?

नागपुर के नगर भाजपा अध्यक्ष प्रवीण दटके (Praveen Datke) ने आरोप लगाया कि विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) जब भी सोशल मीडिया (Social Media) पर कोविड-19 (Covid-19) की स्थिति के बारे में बात करने के लिए आते हैं, उन्हें मुठभेड़ की धमकी दी जाती है.

  • Share this:
मुंबई. कोविड-19 संकट के बीच पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (CM Devendra Fadnavis) को सोशल मीडिया (Social Media) पर मिल रहे ‘‘धमकी भरे संदेशों’’ और अपने कार्यकर्ताओं के खिलाफ ‘‘झूठे मामले’’ दर्ज किए जाने को लेकर भाजपा (BJP) ने नागपुर पुलिस आयुक्त से शिकायत की है. नागपुर के नगर भाजपा अध्यक्ष प्रवीण दटके और अन्य ने सोमवार को पुलिस आयुक्त भूषण कुमार उपाध्याय को लिखित शिकायत दी. इसी तरह की एक शिकायत विधान पार्षद प्रसाद लाड ने मंगलवार को रत्नागिरि के पुलिस अधीक्षक से की.

दटके ने लगाया ये आरोप
दटके ने आरोप लगाया कि विधानसभा में नेता विपक्ष फडणवीस जब भी सोशल मीडिया पर कोविड-19 (Covid-19) की स्थिति के बारे में बात करने के लिए आते हैं, उन्हें मुठभेड़ की धमकी दी जाती है. उन्होंने पूछा, ‘‘जब नेता विपक्ष को इस तरह की धमकी दी जा रही है तो महाराष्ट्र में आम आदमी कैसे सुरक्षित रहेगा?’’

नागपुर से ही ताल्लुक रखनेवाले भाजपा नेता एवं विधान पार्षद अनिल सोल ने कहा कि भाजपा के नेताओं को पिछले कुछ दिन से लगातार ट्रोल (परेशान) किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘अनेक टिप्पणियां बहुत ही निजी प्रकार की और निकृष्ट हैं.’’
इन मंत्रियों को भी किया जा रहा है परेशान


फडणवीस के अतिरिक्त पूर्व मंत्रियों-चंद्रशेखर बावनकुले, सुधीर मुनगंटीवार और विनोद तावडे को भी सोशल मीडिया पर कथित तौर पर परेशान किया गया. मुनगंटीवार ने कहा कि भाजपा को निशाना बनाने के लिए ऐसा जानबूझकर किया जा रहा है. उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘मैंने, मुझे मेरे फेसबुक लाइव के दौरान तथा अन्य भाजपा नेताओं को परेशान करने वालों का डेटा हासिल कर लिया है. मैंने पाया कि अनेक ऑनलाइन एकाउंट में एक ही नाम हैं जिसका मतलब है कि कुछ लोग इरादतन हमें ट्रोल कर रहे हैं.’’

'ट्रोलिंग से नहीं डरेगी बीजेपी'
मुनगंटीवार ने यह भी कहा कि भाजपा ट्रोलिंग से नहीं डरेगी और वह प्रदर्शन के मामले में राज्य सरकार को जवाबदेह ठहराना बंद नहीं करेगी. भाजपा के एक अन्य नेता ने कहा, ‘‘महाराष्ट्र सरकार ने हाल ही में नासिक जिले के एक तथाकथित भाजपा नेता के खिलाफ कथित आपत्तिजनक टिप्पणियों के मामले में कार्रवाई की है. यदि यह मामला है तो हम भी पुलिस अधिकारियों को शिकायत दे रहे हैं. हम देखेंगे कि राज्य सरकार इन ट्रोल को लेकर किस तरह कार्रवाई करती है जो परोक्ष रूप से सत्तारूढ़ सरकार की मदद कर रहे हैं.’’

राजनीति के क्षेत्र में चल रहे इस ऑनलाइन युद्ध ने हाल में तब भौतिक रूप ले लिया जब राज्य के आवास मंत्री एवं एनसीपी नेता जितेंद्र आव्हाड के कथित करीबी लोगों ने एक इंजीनियर की ठाणे में पिटाई कर दी. आव्हाड ने भी अपने तथा कुछ अन्य एनसीपी नेताओं के खिलाफ इंजीनियर द्वारा कथित तौर पर पोस्ट किए गए कुछ ट्वीट जारी किए थे.

एनसीपी ने कहा भाजपा ने ट्रोलिंग पर नहीं की थी कार्रवाई
महाराष्ट्र एनसीपी अध्यक्ष एवं जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल ने कहा कि पुलिस ने 2014-19 (जब भाजपा सत्ता में थी) के दौरान ट्रोलिंग को लेकर कई शिकायतों के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की थी. उन्होंने कहा, ‘‘तब हमने राज्य के कई हिस्सों में पुलिस अधिकारियों के समक्ष शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की थी, लेकिन पुलिस ने तब हमारी शिकायतें दर्ज नहीं की थीं.’’ पाटिल ने दावा किया कि कई सोशल मीडिया हैंडल उस समय तत्कालीन मुख्यमंत्री फडणवीस और भाजपा का समर्थन कर रहे थे.

ये भी पढ़ें-
महाराष्ट्र: ठाणे जिले में कोरोना विस्फोट, 48 घंटे में सामने आए इतने मामले

घर जाने के लिए 12 दिन से भूखे-प्यासे पैदल चल रहा परिवार, 700 KM का सफर है बाकी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading