भाजपा सांसद की धमकी MPSC परीक्षा न रुकी को परीक्षा केंद्र में करेंगे तोड़फोड़

महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा 11 अक्टूबर को होने वाली है. (फाइल फोटो)
महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा 11 अक्टूबर को होने वाली है. (फाइल फोटो)

परीक्षा 200 सीटों के लिए की जा रही है लेकिन करीब दो लाख लोग इसमें शामिल होंगे. संभाजी मराठा राजा छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज हैं. भाजपा नेता ने पूछा कि अगर छात्रों को कोरोना वायरस हो गया तो क्या होगा?

  • Share this:
मुंबई. भाजपा सांसद संभाजी छत्रपति ने कोविड-19 के मद्देनजर 11 अक्टूबर को होने वाली महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा को स्थगित करने की मांग की है. नौकरी और शिक्षा के क्षेत्र में आरक्षण की मांग कर रहे समुदाय के सदस्यों के साथ बैठक के दौरान राज्यसभा सांसद ने कहा कि अगर परीक्षा स्थगित नहीं की गई तो मराठा छात्र परीक्षा केन्द्र में तोड़फोड़ करेंगे.

उन्होंने कहा कि परीक्षा 200 सीटों के लिए की जा रही है लेकिन करीब दो लाख लोग इसमें शामिल होंगे. संभाजी मराठा राजा छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज हैं. भाजपा नेता ने पूछा कि अगर छात्रों को कोरोना वायरस हो गया तो क्या होगा? इसके लिए कौन जिम्मेदार होगा? उन्होंने कहा, कोविड-19 के मद्देनजर रविवार (11 अक्टूबर) को होने वाली महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) परीक्षा को स्थगित किया जाना चाहिए. अगर परीक्षा स्थगित नहीं की गई तो मराठा समुदाय के छात्र परीक्षा केन्द्रों में तोड़फोड़ करेंगे.

इसे भी पढ़ें :- Coronavirus: 'धारावी मॉडल' ने दुनिया के सामने पेश की मिसाल, वर्ल्ड बैंक ने भी की सराहना
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को परीक्षा देने की उम्र सीमा बढ़ानी चाहिए और इसे बाद में आयोजित करना चाहिए. राज्य प्रशासन में ‘ग्रूप ए, बी और सी’ तथा अन्य स्तरों पर भर्ती के लिए एमपीएससी की परीक्षा का आयोजन किया जाता है. यह परीक्षा आमतौर पर अप्रैल-मई में आयोजित की जाती लेकिन कोरोना वायरस के कारण इस साल इसे देरी से आयोजित किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज