लाइव टीवी

NCP-शिवसेना का बनाया ये शामियाना बिखर जाएगाः बीजेपी

News18Hindi
Updated: November 15, 2019, 12:54 PM IST
NCP-शिवसेना का बनाया ये शामियाना बिखर जाएगाः बीजेपी
बीजेपी ने कहा है कि यह सिर्फ सत्ता का लालच है. सत्ता पाने के लिए ही एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना साथ आते दिख रहे हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

कहा- एनसीपी (NCP) और शिवसेना (Shiv Sena) फायदे के लिए साथ आ रहे हैं ये दल, जनता तय करेगी किसकी बनेगी सरकार.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 15, 2019, 12:54 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में चल रहे सियासी घमासान में अब एनसीपी-कांग्रेस (NCP-Congress) और शिवसेना (Shiv Sena) का गठबंधन होता देख बीजेपी (BJP) ने दोनों पार्टियों को आड़े हाथ लिया है. बीजेपी ने कहा है कि यह सिर्फ सत्ता का लालच है. सत्ता पाने के लिए ही एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना साथ आते दिख रहे हैं. एनसीपी और शिवसेना का यह शामियाना जल्द ही बिखर जाएगा. ये दल अपने मतलब के लिए ऐसा कर रहे हैं. जनता तय करेगी किसकी सरकार बनेगी. गौरतलब है कि शुक्रवार को ही एनसीपी ने बयान जारी कर कहा था कि शिवसेना के उम्मीदवार के मुख्यमंत्री (Chief Minister) बनने पर उन्हें कोई आपत्ति नहीं है.

राउत पर कसा तंज, कहा- मोदी-शाह को समझने में लगेंगे कई जन्म
इस दौरान देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि संजय राउत को अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को समझने में कई जन्म लेने होंगे. उन्होंने कहा कि जो तीन पार्टियां देश देख रहा है वह महाराष्ट्र को मंजूर नहीं हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि पहले तो मातोश्री लोग पहुंचते थे लेकिन अब दिख रहा है कि लोग मातोश्री से फाइव स्टार होटल के टूर हो रहे हैं. फाइव स्टार में मिलने की होड़ सी लगी हुई है.

शिवसेना का स्वाभिमान बनाए रखना हमारी जिम्मेदारीः मलिक

एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने कहा है कि सूबे में यदि उनकी और शिवसेना की सरकार बनती है तो शिवसेना का मुख्यमंत्री बनने पर उन्हें कोई आपत्ति नहीं है. उन्होंने कहा कि शिवसेना का अपमान किया गया है और अब उनका स्वाभिमान बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पद पर शिवसेना का उम्मीदवार होता है तो किसी को कोई परेशानी नहीं होगी. इसके साथ ही एनसीपी ने शिवसेना के नेता संजय राउत की बात पर भी मुहर लगा दी. संजय राउत ने दावा किया था कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री हर हाल में शिवसेना का ही होगा.



NCP-कांग्रेस और शिवसेना में होता दिख रहा समझौता
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के बीच सरकार बनाने के लिए शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के बीच समझौता होता दिख रहा है. सूत्रों के मुताबिक तीनों दलों के बीच जो समझौता हुआ है उसके मुताबिक महाराष्ट्र में पांच साल तक शिवसेना का मुख्यमंत्री रहेगा जबकि कांग्रेस और एनसीपी के खाते में एक-एक उपमुख्यमंत्री का पद आएगा. महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के बीच बैठकों का दौर जारी है. खबर है कि तीनों दलों के बीच कॉमन मिनिमम प्रोग्राम को लेकर सहमति बन गई है. सूत्रों के मुताबिक तीनों दलों में जो समझौता हुआ है उसमें शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा. इसके साथ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को 14 और कांग्रेस को 12 मंत्रीपद दिए जाएंगे. खुद शिवसेना के खाते में 14 मंत्री पद आएंगे.

ये भी पढ़ेंः शिवसेना का CM होने पर कोई हमें कोई आपत्ति नहींः NCP

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 12:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...