Home /News /maharashtra /

बुलेट ट्रेन: कोर्ट ने पूछा, ठाणे में जमीन अधिग्रहण कब शुरू होगा?

बुलेट ट्रेन: कोर्ट ने पूछा, ठाणे में जमीन अधिग्रहण कब शुरू होगा?

बॉम्बे हाईकोर्ट (फाइल फोटो)

बॉम्बे हाईकोर्ट (फाइल फोटो)

न्यायमूर्ति रंजीत मोरे और न्यायमूर्ति रेवती मोहिते डेरे की पीठ निर्माण कंपनी अटलांटा लिमिटेड की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई कर रही थी. कंपनी ने बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए अब आरक्षित हो चुकी जमीन पर काम रोकने के नोटिस को चुनौती दी है.

अधिक पढ़ें ...
    बॉम्बे हाईकोर्ट ने नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एनएचएसआरसीएल) और ठाणे जिले के कलेक्टर को हलफनामा दाखिल कर यह बताने का निर्दश दिया है कि मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए मुंब्रा इलाके में भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया कब शुरू होगी.

    पड़ोस के ठाणे जिले में मुंब्रा नगर में एक निर्माण कंपनी और एनएचएसआरसीएल को भूमि अधिग्रहण के मामले का निपटारा पर भी विचार करने का भी सुझाव दिया है.

    न्यायमूर्ति रंजीत मोरे और न्यायमूर्ति रेवती मोहिते डेरे की पीठ निर्माण कंपनी अटलांटा लिमिटेड की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई कर रही थी. कंपनी ने बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए अब आरक्षित हो चुकी जमीन पर काम रोकने के नोटिस को चुनौती दी है.

    कंपनी ने ठाणे नगर निगम (टीएमसी) द्वारा दो मई को जारी नोटिस के खिलाफ सितंबर में उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी. नगर निगम ने इस नोटिस में कंपनी को मुंब्रा के निकट अपनी तीन हेक्टेयर जमीन पर काम रोकने के लिये कहा था.

    पीठ ने सोमवार को सबंधित पक्षों को सौहार्द्रपूर्ण तरीके से मामले को सुलझाने का भी सुझाव दिया. याचिकाकर्ता की ओर से पेश वरिष्ठ वकील एम एम वाशी ने पीठ कहा कि वह मामले को सुलझाने के लिए तैयार हैं. पीठ ने एनएचएसआरसीएल और ठाणे के कलेक्टर से जानना चाहा कि भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया कब शुरू होगी. मामले पर पीठ अगली सुनवाई 14 जनवरी को करेगी.

    ये भी पढ़ें: बुलेट ट्रेन के लिए रेलवे ने खोला खाता, NRI महिला ने बेची अपनी जमीन

    Tags: Bombay high court, Bullet train, Merger and acquisition, Railway

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर