पुणे: आर्मी भर्ती परीक्षा CEE के पेपर लीक, पांच आरोपी गिरफ्तार

पुणे पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया

पुणे पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया

CEE Paper Leak: सीईई के पेपर लीक किए जाने के बाद एक से तीन लाख में बेचे जा रहे थे जिसकी जानकारी आर्मी की मिलिट्री इंटिलिजेंस और पुणे पुलिस को मिलने के बाद दोनों एजेंसियों ने जॉइंट ऑपरेशन कर महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में छापोमारी की और पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
पुणे. मिलिट्री इंटेलिजेंस (Military Intelligence) और पुणे पुलिस (Pune police) ने जॉइंट ऑपरेशन में एक ऐसे गिरोह का भांडाफोड़ किया है, जो आर्मी में भर्ती होने वाली परीक्षा के पेपर लीक किया करते थे. 28 फरवरी को आर्मी में भर्ती के लिए कॉमन एंट्रेस एग्जाम (Common Entrance Exam) होने वाले थे पर इसके पेपर लीक होने की वजह से एग्जाम को रद्द करना पड़ा. कॉमन एंट्रेस एग्जाम (CEE) के पेपर लीक मामले में पुणे पुलिस ने महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों से अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. पकड़े गए आरोपियों में से एक सेना में काम भी कर चुका है.

पेपर लीक मामले में पुणे पुलिस एफआईआर भी दर्ज कर ली है. पुणे पुलिस का मानना है कि इस मामले में एक-एक लीक पेपर 1 से 3 लाख रुपये में बेचा गया था, जिसकी जानकारी आर्मी की मिलिट्री इंटिलिजेंस और पुणे पुलिस को लगी. जिसके बाद दोनों एजेंसियों ने जॉइंट ऑपरेशन कर महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में छापोमारी की और पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.

ये भी पढ़ें- स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने लगवाई कोवैक्सीन, कहा- ये करोना के खिलाफ संजीवनी



एक से तीन लाख में बेचा जा रहा था पेपर
पुणे के सीपी अमिताभ गुप्ता का कहना है, "लीक हुए पेपर को आरोपी 1 से 3 लाख में बेच रहे थे. इसमें सेना का एक पूर्व कर्मी भी शामिल था, पूरे मामले की जांच की जा रही है और गिरोह में शामिल अन्य लोगों का पता लगाने के भी प्रयास किए जा रहे हैं."

मिलिट्री इंटिलिजेंस और पुणे पुलिस ने आरोपियों को महाराष्ट्र के अलग-अलग जिलों से गिरफ्तार किया है. इस मामले में पुणे पुलिस का कहना है की उनकी जांच अभी भी इस मामले में चल रही है और आने वाले दिनों में और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज