महाराष्ट्र में लॉकडाउन की आशंका के बीच सेंट्रल रेलवे ने 106 नई ट्रेनों का किया ऐलान

अनारक्षित स्पेशल ट्रेनों को रद्द करने और एक ट्रेन के मार्ग में परिवर्तन करने का फैसला किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

अनारक्षित स्पेशल ट्रेनों को रद्द करने और एक ट्रेन के मार्ग में परिवर्तन करने का फैसला किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

Coronavirus In Maharashtra: कोरोना वायरस के के बढ़ते मामलों पर लगाम कसने के लिए महाराष्ट्र में संपूर्ण लॉकडाउन लगाए जाने की चर्चा के बीच मुंबई में बाहर जाने वाली रेलगाड़ियों में भीड़भाड़ बढ़ गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 5:21 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण (Coronavirus In Maharashtra) के बढ़ते खतरे के बीच सेंट्रल रेलवे (Central Railway) ने अप्रैल अंत तक के लिए 106 स्पेशल ट्रेनों का ऐलान किया है. रेलवे ने मुंबई, पूना और सोलापुर से उत्तर भारत के शहरों की ओर स्पेशल ट्रेनें शुरू की हैं. रेलवे की ओर से कहा गया है कि मुसाफिर पैनिक न करें, जरूरत पड़ने पर और भी ट्रेनें दी जाएंगी.

बता दें 18-20 रेगुलर ट्रेन पहले से रोज उत्तर और पूर्वी भारत के लिए चल रही हैं. मिली जानकारी के अनुसार 7 अप्रैल से अब तक 25 स्पेशन ट्रेनें उत्तर भारतीय शहरों के लिए चल चुकी हैं. इन्हीं इलाकों के लिए ट्रेनों की ज्यादा मांग है.

Youtube Video


मांग बढ़ने पर डुप्लीकेट ट्रेन चलाई जाएगी
मांग बढ़ने के कारण सोमवार को गोरखपुर के लिए खास तौर पर एक स्पेशल ट्रेन चलाई गई. सभी ट्रेनों की ऑक्यूपेंसी ऑलमोस्ट 100% है यानी ट्रेन भरकर चल रही हैं. महाराष्ट्र में कोरोना की वजह से लॉक डाउन की संभावना की चर्चा के बीच रेलवे ने अपील की है कि मुसाफिर न घबराएं. ट्रेनें बंद नहीं होंगी. रेलवे की ओर से कहा गया कि फिलहाल सिर्फ कंफर्म टिकट वालों को ही यात्रा करने की अनुमति दी जा रही है.

रेलवे ने योजना बनाई है कि किसी ट्रेन में टिकट की मांग बढ़ने पर उस ट्रेन के पीछे डुप्लीकेट ट्रेन चलाई जाएगी. इसी के तहत सोमवार रात सेंट्रल रेलवे ने मुंबई से गोरखपुर के लिए एक डुप्लीकेट ट्रेन चलाई है. रेलवे ने मुसाफिरों से अपील की है कि मांग बढ़ने पर और भी स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी इसलिए मुसाफिर किसी भी हार में घबराए न और न ही किसी तरह की अफवाह पर ध्यान दें.

मुंबई से बाहरी स्थानों की रेलगाड़ियों में यात्रियों की भीड़ बढ़ी



कोविड 19 के बढ़ते मामलों पर लगाम कसने के लिए महाराष्ट्र में संपूर्ण लॉकडाउन लगाए जाने की चर्चा के बीच मुंबई से बाहर जाने वाली रेलगाड़ियों में पिछले सप्ताहांत से भीड़भाड़ बढ़ गई है. यह जानकारी सोमवार को रेलवे के सूत्रों ने दी. बहरहाल, रेल प्रशासन ने गर्मी के मौसम को भीड़ का कारण बताया जिस दौरान बड़ी संख्या में लोग अपने गृह स्थानों की यात्रा करते हैं.

सूत्रों ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा इस महीने की शुरुआत में कोविड 19 को लेकर नई पाबंदियां लगाने के बाद से ही बाहर जाने वाली रेलगाड़ियों में भीड़ बढ़ गई है, लेकिन सप्ताहांत में भीड़ ज्यादा देखी गई. कोविड 19 के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार द्वारा ‘संपूर्ण लॉकडाउन’ लगाने पर विचार करने के कयास लगाए जा रहे हैं.

लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर तैनात मध्य रेलवे के एक कर्मचारी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से मुंबई में स्टेशन पर यात्रियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है. उन्होंने कहा, ‘पिछले कुछ दिनों से रेलगाड़ियों में काफी भीड़ है.’



रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बाहर और खासकर उत्तर भारत जाने वाली रेलगाड़ियों में ज्यादा भीड़ गर्मी के मौसम के कारण है, जब काफी संख्या में लोग शादी विवाह या अन्य कारणों से अपने घर जाते हैं. मध्य रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि वे उत्तर भारत के लिए 12 स्पेशल ट्रेन का संचालन कर रहे हैं, इसके अलावा 18 से 20 नियमित स्पेशल ट्रेन दरभंगा, पटना, दानापुर, गोरखपुर, लखनऊ, मंडुआडीह, पुरी, रक्सौल और गुवाहाटी आदि स्थानों के लिए चलाई जा रही है.(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज