अपना शहर चुनें

States

चाइल्‍ड पॉर्नोग्राफी के सर्वाधिक मामले और गिरफ्तारियां महाराष्‍ट्र में, आंकड़े जारी

महाराष्‍ट्र पुलिस ने जारी किए आंकड़े. (File pic)
महाराष्‍ट्र पुलिस ने जारी किए आंकड़े. (File pic)

महाराष्‍ट्र में चाइल्ड पोर्नोग्राफी (Child Pornography) के 161 मामले दर्ज किए गए. इनमें शामिल 55 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 9:45 PM IST
  • Share this:
मुंबई. देश में चाइल्‍ड पॉर्नोग्राफी (Child Pornography) भी होती है. वहीं महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में देश में सर्वाधिक चाइल्‍ड पॉर्नोग्राफी और यौन शोषण के मामले सामने आए हैं. इतना ही नहीं, महाराष्‍ट्र में चाइल्‍ड पॉर्नोग्राफी के मामलों में सर्वाधिक गिरफ्तारी भी हुई हैं. इस जानकारी से संबंधित आंकड़े महाराष्‍ट्र पुलिस के महिला एवं बाल अपराध प्रतिबंध विभाग ने जारी किए हैं.

महाराष्ट्र पुलिस के महिला एवं बाल अपराध प्रतिबंध विभाग के विशेष पुलिस महानिरीक्षक राजवर्धन ने जानकारी दी है कि चाइल्ड पोर्नोग्राफी के 161 मामले दर्ज किए गए. इनमें शामिल 55 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. चाइल्‍ड पॉर्नोग्राफी के अलावा महिलाओं से संबंधित मामलों की राज्‍य में बड़ी संख्‍या में जीरो एफआईआर भी दर्ज की गई हैं. ये एफआईआर राज्‍य के विभिन्‍न पुलिस स्‍टेशनों में दर्ज की गईं.

जानकारी दी गई है कि 2019 में महाराष्‍ट्र में कुल जीरो FIR के 604 मामले दर्ज किए गए थे. वहीं 2020 में जीरो FIR के 482 मामले दर्ज किए गए हैं. सभी केस की जांच के लिए संबंधित पुलिस स्टेशनों में भेजा गया है. गौरतलब है कि जीरो FIR प्रक्रिया में पीड़िता को अपनी सहूलियत के हिसाब से पुलिस स्टेशनों का चुनाव करना पड़ता है, जहां वह आरोपी के खिलाफ FIR दर्ज करवा सकें.

महिलाओं से जुड़ी आपराधिक घटनाओं की बात करें तो पिछले साल इनमें कमी देखी गई थी. महिलाओं से संबंधित अपराधों पर लगाम लगाने के लिए मुंबई पुलिस ने बेहतर काम किया है. मुंबई पुलिस द्वारा जारी वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार 2020 में रेप के 693 केस दर्ज किए गए थे. वहीं 2019 में रेप के 913 मामले सामने आए थे. मतलब 2020 में रेप के मामलों में कमी आई थी. पुलिस के अनुसार 2020 में महिलाओं से छेड़छाड़ के 1722 केस दर्ज हुए, जबकि 2019 में छेड़छाड़ के 2393 मामले दर्ज हुए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज