Home /News /maharashtra /

क्या ओमिक्रॉन वेरिएंट की चपेट में मुंबई? आंकड़ों से मिले कम्युनिटी ट्रांसमिशन के संकेत

क्या ओमिक्रॉन वेरिएंट की चपेट में मुंबई? आंकड़ों से मिले कम्युनिटी ट्रांसमिशन के संकेत

मुंबई में ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले बढ़े (फाइल फोटो)

मुंबई में ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले बढ़े (फाइल फोटो)

Community Transmission of Omicron variant in Mumbai: दिल्ली और मुंबई समेत कई बड़े शहरों में ओमिक्रॉन वेरिएंट का सामुदायिक संक्रमण शुरू हो गया है. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में इसके सबूत मिले हैं. यहां जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए 280 सैंपल्स में से 248 नमूनों में इस वेरिएंट की पुष्टि हुई है.

अधिक पढ़ें ...

मुंबई: देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) के कारण महामारी की तीसरी लहर जारी है और संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े हैं. दिल्ली और मुंबई समेत कई बड़े शहरों में ओमिक्रॉन वेरिएंट का सामुदायिक संक्रमण (Community Transmission) शुरू हो गया है. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) में इसके सबूत मिले हैं. यहां जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए 280 सैंपल्स में से 248 नमूनों में इस वेरिएंट की पुष्टि हुई है.

इस बारे में बीएमसी ने कहा कि यह सैंपल्स का 8वां बैच था. जिसमें शहर से 280 और बाहर के 93 नमूने शामिल थे. इन सभी सैंपल्स को टेस्ट के लिए भेजा गया था. इनमें से 21 नमूनों में डेल्टा वेरिएंट मिला जबकि 11 अन्य सैंपल में अन्य वेरिएंट मिले. इसके अलावा बाकी बचे नमूनों में ओमिक्रॉन वेरिएंट की पुष्टि हुई है.

बीएमसी अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि, अलग-अलग आयु वर्ग के लोग संक्रमण का शिकार हुए हैं. 80 सैंपल्स में से 96 या 34 फीसदी लोग 21 से 40 वर्ष की आयु वाले हैं. वहीं 41 से 60 वर्ष की आयु वर्ग वाले मरीज 79 या 28 प्रतिशत थे. इनमें से 13 सैंपल ऐसे भी थे जो 0 से 18 साल के मरीजों के थे. जिनमें 5 साल से छोटे बच्चे भी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: कई शहरों में कोरोना की तीसरी लहर का पीक गुजरा, जानें आखिर कैसे वैक्सीनेशन की मदद से बेहतर रहे हालात

बीएमसी के अनुसार, कुल 280 मरीजों में से 174 लोगों को कोरोना टीका लगाया जा चुका था. वहीं इनमें से 7 लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज ली थी जबकि 99 लोगों ने टीका नहीं लगवाया था. इनमें से वैक्सीन का सिंगल डोज लेने वाले 7 लोगों में से 6 मरीजों को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा. जबकि टीके की दोनों डोज ले चुके 174 मरीजों में से 89 लोगों को हॉस्पिटल में एडमिट कराना पड़ा.

इससे पहले इंडियन सार्स-कोव-2 जीनोमिक कंसोर्टियम ने भी अपने ताजा बुलेटिन में कहा था कि देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट का कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो गया है. कुछ शहरों में इसके प्रमाण मिले हैं. INSACOG के अनुसार, ओमिक्रॉन का एक सब-वेरिएंट BA.2 देश में कई जगह मिला है. हैरानी की बात है कि देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट का पहला मामला 2 दिसंबर को मिला था और सिर्फ 7 सप्ताह के अंदर कम्युनिटी ट्रांसमिशन की स्टेज आ गई.

Tags: Coronavirus, Omicron

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर