महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री विनायकदादा पाटिल का निधन

फाइल फोटो
फाइल फोटो

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विनायकदादा पाटिल (vinayak dada patil) का नासिक के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया.

  • Share this:
नासिक. महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विनायकदादा पाटिल (Vinaykdada patil) का नासिक के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. वह 77 वर्ष के थे. पाटिल के पारिवारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है. वह कुछ समय से बीमार थे.

सूत्रों ने बताया कि पाटिल ने शुक्रवार रात अंतिम सांस ली. उन्होंने कहा कि पहले पाटिल का मुंबई के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था. कुछ दिन पहले उन्हें नासिक ले जाया गया था. शुक्रवार को उन्हें गुर्दा संबंधी रोग के इलाज के लिये नासिक के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार के करीबी माने जाने वाले पाटिल राज्य के उद्योग, सांस्कृतिक मामलों, युवा एवं खेल मंत्री रह चुके थे. उन्हें कृषि तथा वानिकी क्षेत्र और देशभर में जटरोफा की पैदावार में उनके योगदान के लिये जाना जाता है.



पाटिल को 'वनाधिपति' की उपाधि
'कुसुमगराज' के नाम से मशहूर मराठी साहित्यकार दिवंगत वी वी शिरवाडकर ने पाटिल को 'वनाधिपति' की उपाधि दी थी. पाटिल के परिवार में दो बेटियां, दामाद और नाती-नातिन हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पाटिल के निधन पर शोक व्यक्त किया है.

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया कि एक समय सरपंच रहे पाटिल महाराष्ट्र के मंत्री तक बने. उन्होंने राज्य और किसानों के कल्याण के लिये काफी काम किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज