कांग्रेस के राज्यसभा सांसद राजीव सातव का कोरोना से उबरने के बाद निधन, पुणे में चल रहा था इलाज

राजीव सातव

राजीव सातव

राजीव सातव (Rajya Sabha MP Rajiv Satav) 22 अप्रैल को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. पुणे के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था.

  • Share this:

पुणे. कांग्रेस के सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद राजीव सातव (Rajya Sabha MP Rajiv Satav) का कोरोना (Coronavirus) से निधन हो गया है. वे महज 46 साल के थे. सातव को पिछले महीने ही कोरोना हुआ था. पिछले कुछ दिनों से पुणे के एक हॉस्पिटल में वो वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे. कहा जा रहा है कि सातव कोरोना के नए वेरिएंट से संक्रमित थे.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले सातव 22 अप्रैल को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. कहा जा रहा है कि सातव को बाद में एक नया वायरल संक्रमण हो गया था और उनकी हालत गंभीर थी. बाद में उन्हें पुणे के जहांगीर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां वो वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे.

राजीव सातव की मौत के बाद कांग्रेस में शोक की लहर दौड़ गई. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने उन्हें याद करते हुए लिखा है- राजीव सातव की सादगी, बेबाक़ मुस्कराहट, ज़मीनी जुड़ाव, नेत्रत्व और पार्टी से निष्ठा और दोस्ती सदा याद आयेंगी.

सुरजेवाला का ट्वीट

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके निधन पर शोक जताते हुए लिखा है, 'मुझे अपने दोस्त राजीव सातव के खोने का बहुत दुख है. उनमें नेता के तौर पर काफी क्षमता थी. उन्होंने कांग्रेस के आदर्शों को आगे बढ़ाया.'


राजीव सातव को साल 2014 के लोकसभा चुनाव में हिंगोली सीट से बड़ी जीत मिली थी. उन्होंने शिवसेना के सुभाष वानखेड़े को हराया था. फिलहाल वे राज्यसभा सांसद थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज