कड़े लॉकडाउन के बावजूद नागपुर में नही थम रहे कोरोना मामले, हॉटस्पॉट बनने की राह पर ऑरेंज सिटी

 नागपुर के बाजार की फाइल फोटो

नागपुर के बाजार की फाइल फोटो

Corona Nagpur News: आंकड़े इस बात की गवाही दे रहे हैं कि कड़े लॉकडाउन के बावजूद लोग कोरोना नियमों का पालन करने को तैयार नही हैं और लगातार बेवहज घरों से बाहर निकल रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 9:19 PM IST
  • Share this:
नागपुर.महाराष्ट्र के नागपुर (Nagpur) में लगाए गए कड़े लॉकडाउन का कोई खासा असर देखने को नही मिल रहा है और कोरोना के बढ़ते मामलों से हालात लगातार बिगडते जा रहे हैं. नागपुर में कड़े लॉकडाउन के बावजूद पिछले 24 घण्टे में 3370 कोरोना के मामले सामने आए हैं,जबकि 16 लोगों की मौत हुई है. अगर महाराष्ट्र के अन्य जिलों की बात करें तो नागपुर मौजूदा समय में कोरोना का केंद्र बना हुआ है और हॉटस्पॉट बनने की राह में अग्रसर है. इतना ही नही, नागपुर में इस समय सबसे ज्यादा 21,118 कोरोना के एक्टिव केसेज हैं.

नागपुर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए ही 15 मार्च से 21 मार्च के बीच पूरी तरह से कड़क लॉकडाउन लगाया गया है और आज उसका चौथा दिन है, बावजूद इसके कोरोना मामले थमने का नाम नही ले रहे हैं. कड़े लॉकडाउन के बावजूद भी हर दिन कोरोना के आंकड़े नया रिकॉर्ड नागपुर में कायम कर रहे हैं.

Youtube Video




कोरोना के 2200 से ज्यादा मामले
15 मार्च को नागपुर में कोरोना के 2200 से ज्यादा मामले सामने आए. 16 मार्च को आंकड़ों में और उछाल आया और कोरोना के कुल 2570 मामले सामने आए,जबकि 18 कोरोना मरीजों की मौत हो गई. 17-18 मार्च को यानी कुल 24 घण्टे में 3370 मामले दर्ज किए गए हैं और 16 लोगों की मौत हुई है.

ये आंकड़े इस बात की गवाही दे रहे हैं कि कड़े लॉकडाउन के बावजूद लोग कोरोना नियमों का पालन करने को तैयार नही हैं और लगातार बेवहज घरों से बाहर निकल रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़ी चीजों को अनुमति है, लेकिन फिर भी लोग मानने को तैयार नही हैं और नियमों का धड़ल्ले से उल्लंघन कर रहे हैं. ऐसे में जल्द से जल्द राज्य सरकार और लोकल प्रशासन को इससे निपटने के लिए कठोर कदम उठाने होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज