• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • COVID-19: मुंबई की 'आर वैल्यू' सितंबर अंत में बढ़कर एक हुई, जानिए क्या है इसका मतलब

COVID-19: मुंबई की 'आर वैल्यू' सितंबर अंत में बढ़कर एक हुई, जानिए क्या है इसका मतलब

मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया के पास कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाकर घूमते लोग. (फाइल फोटो)

मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया के पास कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाकर घूमते लोग. (फाइल फोटो)

Coronavirus Mumbai News: मुंबई में छह अक्टूबर को कोविड-19 के 629 नए मामले आए जो 14 जुलाई को आए 635 मामलों के बाद सबसे अधिक हैं.

  • Share this:

    मुंबई. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सितंबर के अंत में ‘आर वैल्यू’ बढ़कर एक हो गई. आर वैल्यू से संकेत मिलता है कि कोविड-19 महामारी कितनी तेजी से फैल रही है. यह जानकारी एक अध्ययन में सामने आई है. रिप्रोडक्शन संख्या या आर वैल्यू इंगित करती है कि एक संक्रमित व्यक्ति औसतन और कितने लोगों को संक्रमित कर रहा है.

    दूसरे शब्दों में कहा जाए तो यह बताता है कि वायरस कितने प्रभावी तरीके से बढ़ रहा है. आर वैल्यू अगर एक से नीचे होती है तो अभिप्राय है कि संक्रमण धीरे-धीरे फैल रहा है, जबकि एक से अधिक होने का अभिप्राय है कि प्रत्येक संक्रमित संक्रमण फैला रहा है और इसे महामारी का चरण कहा जाता है.

    आखिर क्यों भारत के सामने अचानक खड़ा हो गया बिजली संकट, जानें सब कुछ

    चेन्नई स्थित गणितीय विज्ञान संस्थान के अध्ययन के मुताबिक 10 से 13 अगस्त के बीच मुंबई की आर वैल्यू 0.70 थी जो 13 से 17 अगस्त के बीच बढ़कर 0.95 हो गई. 25 अगस्त से 18 सितंबर तक इसमें और बढ़ोतरी हुई और यह 1.09 तक पहुंच गई. 25 सितंबर से 27 सितंबर के बीच हालांकि गिरावट दर्ज की गई और यह 0.95 पर आ गई.

    कैसे फैसले लेते हैं प्रधानमंत्री मोदी? अमित शाह बोले- उनसे अच्छा श्रोता नहीं देखा

    संस्थान के मुताबिक 28 से 30 सितंबर के बीच आर वैल्य में एक बार फिर वृद्धि देखने को मिली और 1.03 पर पहुंच गई. मुंबई में आर वैल्यू में ऐसे समय वृद्धि हो रही है जब कोविड-19 के मामलों की संख्या त्योहारी मौसम की वजह से बढ़ रही है.

    किसान रैली में बोलीं प्रियंका गांधी- लखनऊ आकर भी किसानों का दर्द नहीं बांट सके PM मोदी

    मुंबई में छह अक्टूबर को कोविड-19 के 629 नए मामले आए जो 14 जुलाई को आए 635 मामलों के बाद सबसे अधिक हैं. महाराष्ट्र सरकार ने इस बीच सात अक्टूबर से (नवरात्रि के पहले दिन) राज्य के धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दी है.

    तालिबान ने अमेरिका को धमकी- अगर अफगानिस्तान को अस्थिर करने की कोशिश तो समझ लेना

    चेन्नई के संस्थान के मुताबिक मुंबई की आर वैल्यू सितंबर के अंत में बढ़कर एक हो गई है, लेकिन फिर भी शहर की स्थिति कोलकाता और बेंगलुरु से बेहतर है. कोलकाता में आर वैल्यू एक अगस्त से ही एक के करीब है और 29 सितंबर से चार अक्टूबर तक शहर में आर वैल्यू 1.06 रही.

    बेंगलुरु की आर वैल्यू भी पिछले महीने से ही करीब एक रही है और 28 सितंबर से एक अक्टूबर के बीच में इसमें बढ़ोतरी हुई और यह 1.05 पर आ गई. दिल्ली, चेन्नई और पुणे की आर वैल्यू एक से नीचे है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज