लाइव टीवी

दिल्ली में जो हुआ वो हमने महाराष्ट्र में नहीं होने दिया... जमात को लेकर उद्धव ठाकरे ने कही ये बात
Maharashtra News in Hindi

News18Hindi
Updated: April 5, 2020, 9:39 AM IST
दिल्ली में जो हुआ वो हमने महाराष्ट्र में नहीं होने दिया... जमात को लेकर उद्धव ठाकरे ने कही ये बात
महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य ठाकरे (PTI)

उद्धव ठाकरे ने कहा कि कोविड-19 (COVID-19) का कोई धार्मिक रंग नहीं है, लेकिन कोविड-19 जैसा एक सांप्रदायिक वायरस भी है. मैं उन लोगों को चेतावनी दे रहा हूं, जो नागरिकों को गलत संदेश फैला रहे हैं और ऐसे वीडियो को मजे के लिए भी अपलोड कर रहे हैं.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इस बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने तबीलीगी जमात (Tablighi Jamaat) को लेकर बड़ा खुलासा किया है. ठाकरे ने कहा कि दिल्ली में जो हुआ है वैसा हमने महाराष्ट्र में नहीं होने दिया. इसे (तबलीगी जमात) पहले अनुमति दी गई थी, लेकिन बाद में स्थिति को देखते हुए हमने अनुमति से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि अधिकारियों ने अब उन सभी लोगों का पता लगाया है जो हमारे राज्य से दिल्ली कार्यक्रम में गए थे.

उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि राज्य में 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन हटाया जाएगा या नहीं, ये लोगों के बर्ताव को देखकर तय किया जाएगा. देखा जाएगा कि लोग सरकारी दिशा-निर्देशों का कितना पालन करते हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में किसी भी प्रकार के धार्मिक, खेल आयोजन की इजाजत नहीं दी जाएगी.

कोविड-19 का धर्म से लेना-देना नहीं
उद्धव ठाकरे ने कहा कि कोविड-19 का कोई धार्मिक रंग नहीं है, लेकिन कोविड-19 जैसा एक सांप्रदायिक वायरस भी है. उन्होंने कहा, 'मैं उन लोगों को चेतावनी दे रहा हूं, जो नागरिकों को गलत संदेश फैला रहे हैं और ऐसे वीडियो को मजे के लिए भी अपलोड कर रहे हैं. यह कोविड-19 वायरस कोई धर्म नहीं देखता है.'






दिल्ली के तबलीगी जमात का जिक्र करते हुए सीएम ठाकरे ने कहा कि कार्यक्रम में शामिल हुए महाराष्ट्र के सभी लोगों (1,225) की पहचान कर ली गई है और यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि उनके माध्यम से कोविड-19 संक्रमण का प्रसार न हो. साथ ही इसके संक्रमण के रोकथाम के उपाय चल रहे हैं.

मुख्यमंत्री ठाकरे ने ऐसे कठिन वक्त पर मदद के लिए आगे आए विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों को भी धन्यवाद दिया. मुख्यमंत्री ठाकरे ने चिकित्सा समुदाय को होटलों में कमरे देने के लिए ताज ग्रुप का और कोविड-19 संक्रमण के मद्देनजर क्वारंटाइन परिसर की पेशकश करने के लिए बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान का शुक्रिया अदा किया है.

महाराष्ट्र में कोरोना के कितने मामले?
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के अब तक 635 कंफर्म मामले मिले हैं. इनमें से 551 एक्टिव केस हैं. 32 लोगों की इस वायरस से मौत हो गई है, जबकि 62 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.

ये भी पढ़ें: वैज्ञानिकों ने जगाई उम्मीद! इस दवा से 48 घंटे में खत्म हुआ कोरोना वायरस, अब इंसानों पर होगी जांच

महाराष्ट्र: एशिया के सबसे बड़े स्लम धारावी में 24 घंटे में मिला एक और कोरोना पॉजिटिव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 5, 2020, 8:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading