कोरोना वैक्सीन पर सियासत: NCP का केंद्र पर महाराष्ट्र के लिए बेपरवाह रवैया अपनाने का आरोप

असम के तेजपुर में एक महिला स्वास्थ्यकर्मी को कोरोना टीका देती एक नर्स. (पीटीआई फाइल फोटो)

असम के तेजपुर में एक महिला स्वास्थ्यकर्मी को कोरोना टीका देती एक नर्स. (पीटीआई फाइल फोटो)

Maharashtra Coronavirus Vaccine: राकांपा प्रदेश प्रवक्ता महेश तपासे ने बृहस्पतिवार को कहा, “केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को याद दिलाना होगा कि महाराष्ट्र टीकाकरण अभियान के लिहाज से देश में नंबर एक पर है."

  • Share this:
मुंबई. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने केंद्र पर कोविड-19 वैश्विक महामारी के बीच महाराष्ट्र के प्रति लापरवाही भरा रवैया अपनाने का बृहस्पतिवार को आरोप लगाया. पार्टी ने कहा कि भाजपा राज्य में सरकार नहीं बना पाई इस कारण ऐसा कर रही है.

महा विकास अघाड़ी सरकार में एक घटक, राकांपा का यह आरोप राज्य में कोविड-19 टीकों की कमी के दावे के मद्देनजर आया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने राज्य सरकार के दावों को निराधार बताते हुए बुधवार को उसकी आलोचना की थी और कहा था कि वह वैश्विक महामारी को रोकने में अपनी विफलता को छिपा रही है.

राकांपा प्रदेश प्रवक्ता महेश तपासे ने बृहस्पतिवार को कहा, “केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को याद दिलाना होगा कि महाराष्ट्र टीकाकरण अभियान के लिहाज से देश में नंबर एक पर है और यह पूरी तरह महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और उनकी टीम के प्रयासों के चलते है.” उन्होंने एक बयान में कहा कि राज्य जांच करने, संपर्कों का पता लगाने, पृथकवास में भेजने और टीका लगाने में काफी सक्रिय है.

उन्होंने कहा कि उम्मीद की जा रही थी कि हर्षवर्धन टोपे की मांग पर सकारात्मक तरीके से प्रतिक्रिया देंगे. तापसे ने आरोप लगाया, “मुख्य मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए मीडिया की सस्ती तरकीबों का इस्तेमाल करना भाजपा की नीति है. यह मोदी सरकार है जिसका महाराष्ट्र के प्रति रवैया बेपरवाह है क्योंकि भाजपा यहां सरकार नहीं बना पाई.” तापसे ने कहा कि अगर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री देखना चाहें, तो टीकों की प्राप्त खुराकों और दी गई खुराकों का डेटा उपलब्ध है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज