COVID-19 in Maharashtra: महाराष्ट्र में फिर तेजी से फैल रहा कोरोना, डॉक्टर बोले- उतनी घातक नहीं दूसरी लहर

मुंबई में तेज़ी से बढ़ रहे हैं केस

मुंबई में तेज़ी से बढ़ रहे हैं केस

Covid-19: मुं​बई में जहां पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमण के तीन हजार से ज्यादा नए केस मिले हैं. वहीं एशिया की सबसे बड़ी स्लम बस्ती धारावी में कोरोना संक्रमण के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2021, 3:46 PM IST
  • Share this:
मुंबई. कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से देशभर में हड़कंप मच गया है. खास कर महाराष्ट्र (Maharashtra) में तेज़ी से हालात बिगड़ रहे हैं. पिछले साल भी कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज महाराष्ट्र से ही आ रहे थे और इस बार भी हालात कुछ इसी तरह के हैं. देश के 90 फीसदी से ज्यादा केस इस वक्त महाराष्ट्र से ही आ रहे हैं. एक्सपर्ट्स के मुताबिक इस बार कोरोना के ज्यादा गंभीर मामले सामने नहीं आ रहे हैं, लेकिन इस बार ये वायरस यूरोप की तरह तेज़ी से फैल रहा है.

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, मुंबई में BMC के अस्पतालों ने फरवरी के दूसरे हफ्ते में कोविड वार्ड में बेड की संख्या घटाने का फैसला किया था, लेकिन हालात एक बार फिर से तेजी से बिगड़ने लगे. फिलहाल मुंबई के कई अस्पतालों में कोविड के वार्ड लगभग भर गए हैं. डॉक्टर प्रिंस सुराना ने कहा, 'फरवरी के पहले हफ्ते में हमलोग चेम्बुर के हॉस्पिटल में बेड की संख्या घटाने की प्लानिंग कर रहे थे. लेकिन फरवरी के आखिरी हफ्ते तक सारे बेड फुल हो गए. हमारे 9 वेंटिलेटर भी फुल हैं.'

Youtube Video




तेजी से बढ़ रहे हैं मामले
सरकारी स्वास्थ्य विभाग में एपिडेमियोलॉजी के प्रमुख डॉक्टर प्रदीप अवाते का कहना है कि महराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर फिलहाल ज्यादा खरनाक नहीं दिख रही है. लेकिन इस बार ये यूरोप की तरह तेज़ी से फैल रहा है. महाराष्ट्र में 15 से 21 फरवरी तक की मृत्यु दर 0.7% थी, जो कि 15-20 मार्च के बीच पिछले छह दिनों में 0.32% हो गई. हालांकि, साप्ताहिक मामलों में तीन गुना वृद्धि हुई है.

मुं​बई में बिगड़ रहे हैं हालात
मुं​बई में जहां पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमण के तीन हजार से ज्यादा नए केस मिले हैं. वहीं एशिया की सबसे बड़ी स्लम बस्ती धारावी में कोरोना संक्रमण के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं. धारावी में मार्च के महीने में अब तक कोरोनावायरस के 272 मामले सामने आ चुके हैं, जो कि फरवरी में 168 मामले की तुलना में 62 प्रतिशत अधिक हैं. वहीं महाराष्‍ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि कोरोना को रोकने के लिए लॉकडाउन ही एक विकल्‍प है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज