कोविड-19: महाराष्ट्र में एक दिन में 8,968 नए केस, 266 लोगों की मौत, 10,221 स्वस्थ हुए

मुंबई में मृतकों की संख्या बढ़कर 6,493 हो गई है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई में मृतकों की संख्या बढ़कर 6,493 हो गई है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई (Mumbai) में कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण के 970 नए मामले सामने आए जिससे इस शहर में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,17,406 हो गई.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सोमवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के 8,968 नए मामले सामने आने के साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,50,196 हो गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग ने बताया कि 266 और मरीजों की मौत के साथ ही इस महामारी से जान गंवाने वालों का आंकड़ा बढ़कर प्रदेश में 15,842 हो गया है. विभाग ने कहा कि रविवार को कुल 10,221 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई जिससे राज्य में ठीक हो चुके मरीजों की संख्या बढ़कर 2,87,030 पहुंच गई.

महाराष्ट्र में अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,47,018 है. विभाग ने कहा कि राज्य में अब तक कोविड-19 के 22,98,723 नमूनों की जांच की जा चुकी है. राज्य की राजधानी मुंबई (Mumbai) में कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण के 970 नए मामले सामने आए जिससे इस शहर में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,17,406 हो गई. वहीं महानगरीय इलाके में 2,957 नए मामले सामने आए और संक्रमण के कुल मामले यहां बढ़कर 2,49,111 हो गए. विभाग के मुताबिक मुंबई में मृतकों की संख्या बढ़कर 6,493 हो गई है जबकि मुंबई महानगरीय क्षेत्र (एमएमआर) में महामारी से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 9,970 हो गया है.

ये भी पढ़ें- जुबिलेंट ने लॉन्च की कोरोना के लिए रेमडेसिविर दवा, 1 शीशी की कीमत 4,700 रुपये



महाराष्ट्र में संक्रामक रोगों के लिए स्थायी अस्पताल की जरूरत
वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra's CM Uddhav Thackeray) ने सोमवार को कहा कि संक्रामक रोगों के उपचार के लिये प्रदेश को एक स्थायी समर्पित अस्पताल की जरूरत है. प्रदेश के ठाणे (Thane) जिले के मीरा भयंदर (Mira Bhayandar) में 371 बिस्तरों वाले कोविड—19 अस्पताल (Covid-19 Hospital) के उद्घाटन के मौके पर मुख्यमंत्री ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि कोविड—19 महामारी से निपटने के लिये मैदानों एवं हॉलों में सुविधा केंद्रों को स्थापित किया गया जोकि अस्थायी प्रकृति के हैं, जबकि संक्रामक रोगों के इलाज एवं अनुसंधान के लिये स्थायी सुविधा केंद्र समय की मांग है.

इससे पहले 27 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) एवं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन (Health Minister Dr Harshvardhan) के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिये बातचीत में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने केंद्र से मुंबई के निकट संक्रामक रोगों के अस्पताल की स्थापना में मदद देने की मांग की थी.

मुंबई, दिल्ली, चेन्नई में कम हो रहे मामले
वहीं हाल ही में आए एक अध्ययन में पता चला है कि कोविड-19 के आर-वैल्यू या रिप्रोडक्टिव वैल्यू में दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में गिरावट आयी है जो दर्शाती है कि देश के तीन बड़े शहरों में इस महामारी का कहर थमने की राह पर है. हालांकि, विशेषज्ञों ने चेतावनी भी दी है कि इस स्तर पर आकर अगर लापरवाही की गई तो संक्रमण फिर से बढ़ सकता है. इसबीच ‘स्टैटिस्टिक्स एंड एप्लिकेशंस’ पत्रिका में प्रकाशित ताजा आर-वैल्यू कुछ इस प्रकार हैं... दिल्ली में यह 0.66, मुंबई में 0.81 और चेन्नई में 0.86 है जो राष्ट्रीय औसत 1.16 से काफी कम है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज