Cyclone Tauktae: टाउते तूफान में डूबा 'बार्ज P305', 180 लोगों का रेस्क्यू, 81 लापता

टाउते तूफान के बाद जारी है रेस्क्यू ऑपरेशन.

टाउते तूफान के बाद जारी है रेस्क्यू ऑपरेशन.

महाराष्ट्र से गुजरे टाउते तूफान ने जाते-जाते समंदर में जो तबाही मचाई, उसके निशान आज दिखाई दे रहे हैं. समंदर के बीच खड़े बार्ज P305 के भटकने और फिर डूबने की खबर के बाद उसमें सवार लोगों को बचाने में नौसेना लगी है. 273 में से 180 लोग बचाए जा चुके हैं, जबकि 81 अब भी लापता ही हैं.

  • Share this:

मुंबई. टाउते तूफान ने महाराष्ट्र में जो तबाही मचाई, उसमें एक नाम 'बार्ज P305'का भी है. जो टाउते तूफान की ताकत के दौरान चली तेज़ हवाओं और चक्रवात की चपेट में आकर पहले तो भटक गया और फिर खबर आई उसके डूब जाने की. इस बार्ज पर कुल 273 लोग सवार थे. जिनमें से नौसेना के रेस्क्यू एंड सर्च ऑपरेशन के तहत 180 लोगों को बचाया जा सका है, लेकिन 81 लोग अब भी लापता हैं. समय बीतने के साथ-साथ इन लोगों को लेकर डर भी बढ़ता जा रहा है. 'बार्ज P305'मुंबई से करीब 175 किलोमीटर की दूरी पर बॉम्बे हाई के पास डूबा. इसके डूबने की वजह उस एंकर का हट जाना था, जिसके जरिये ये बार्ज वहां टिका हुआ था.

रेस्क्यू ऑपरेशन P-8I एयरक्राफ्ट के जरिये चलाया जा रहा है. आसमान में उड़ते हुए ये एयरक्राफ्ट समंदर में भटके हुए लोगों की तलाश कर रहा है. तूफान के गुजरने के बाद मौसम में आई थोड़े सुधार के चलते ये ऑपरेशन लगातार चल रहा है. नेवी के अधिकारियों का कहना है कि भटके हुए लोगों में से उन्हें बचाया जा सकता है, जो लाइफ जैकेट्स पहने हुए हैं. हालांकि बार्ज की अपनी भी रेस्क्यू बोट और लाइफ राफ्ट्स हैं लेकिन नेवी के दो जहाज INS कोच्चि और INS कोलकाता रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे हैं. समंदर में लाइफबोट्स और लाइफजैकेट्स फेंकी गई हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा भटके हुए लोगों की जान बच सके. अहिल्या और ओशन एनर्जी नाम के जहाज रेस्क्यू ऑपरेशन में उतरे हुए हैं. इस सबमें सबसे बड़ी चुनौती समंदर का मौसम बना हुआ है.

इसके अलावा भी तीन और रेस्क्यू ऑपरेशन समंदर के अंदर चल रहे हैं. गैल कंस्ट्रक्टर बार्ज भी 137 लोगों के साथ भटक गया था. भारतीय नौसेना और कोस्टगार्ड ने मिलकर P305 और गैल कंस्ट्रक्टर को मिलाकर अब तक 314 लोगों को रेस्क्यू कर लिया है. नवी का शिप INS तलवार सागर भूषण नाम के एक और बार्ज को मदद दे रहा है, जिसमें 101 लोग सवार थे. 196 लोगों वाले SS-3 बार्ज को भी सहायता पहुंचाई जा रही है. ये दोनों बार्ज भी तूफान के दौरान भटक गए थे , लेकिन इनकी लोकेशन का पता जल्द ही लगा लिया गया. खराब मौसम के बावजूद रेस्क्यू ऑपरेशन जारी हैं और कोशिश की जा रही है कि जल्द से जल्द हेलिकॉप्टर्स के जरिये ज्यादा से ज्यादा सर्वाइवर्स को सुरक्षित पहुंचाया जा सके.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज