महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस से मरने वालों संख्या हुई 421, अब तक 3,914 मामले आए सामने

महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस के 3914 मामले

महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस के 3914 मामले

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus In Maharashtra) के घटते मामलों के बीत अब ब्लैक फंगस के बढ़ते मामले डरा रहे हैं.

  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus In Maharashtra) के घटते मामलों के बीत अब ब्लैक फंगस के बढ़ते मामले डरा रहे हैं. मंगलवार को जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार राज्य में अब तक 421  लोगों की मौत ब्लैक फंगस से हो चुकी है. वहीं अब तक 3,914 मामले सामने आ चुके हैं.

इससे पहले केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डी वी सदानंद गौड़ा ने सोमवार को कहा कि केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्रशासित क्षेत्रों को एम्फोटेरिसिन-बी की अतिरिक्त 30,100 शीशियां आवंटित की हैं. एम्फोटेरिसिन-बी का इस्तेमाल म्यूकोर्मिकोसिस के इलाज में किया जाता है। इस बीमारी को ब्लैक फंगस के नाम से भी जाना जाता है जो नाक, आंख, साइनस और कई बार मस्तिष्क को बुरी तरह प्रभावित करती है।

Youtube Video

महाराष्ट्र को सबसे ज्यादा 5,900 शीशियां दी गईं
गौड़ा ने ट्विटर पर लिखा, 'सभी राज्यों/केंद्रशासित क्षेत्रों और केंद्रीय संस्थानों को आज एम्फोटेरिसिन-बी की अतिरिक्त 30,100 शीशियां आवंटित की गयीं.' सरकार ने नये आवंटन के तहत महाराष्ट्र को सबसे ज्यादा 5,900 और गुजरात को 5,630 शीशियां उपलब्ध करायी हैं.

आंध्र प्रदेश को 1,600, मध्य प्रदेश को 1,920, तेलंगाना को 1,200, उत्तर प्रदेश को 1,710, राजस्थान को 3,670, कर्नाटक को 1,930 और हरियाणा को भी 1,200 अतिरिक्त शीशियां दी गयी हैं. पिछले हफ्ते केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्रशासित क्षेत्रों को एम्फोटेरिसिन-बी दवा की 29,250 अतिरिक्त शीशियां आवंटित की थीं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज